Gwalior News: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। शेयर बाजार अभी बेहतरीन गति से आगे बढ़ रहा है। नए वित्त वर्ष के शुरुआत में शार्ट टर्म और लांग टर्म कैपिटल बुकिंग से थोड़ी नरमी दिखी है, लेकिन अब बाजार आगे बढ़ रहा है।

चार्टर्ड एकाउंटेंट शिल्पी गुप्ता के मुताबिक अभी हो ये रहा है कि इंडेक्स साठ हजार के स्तर को पार करता है और 61 हजार के बाद गिरावट देखी जाती है। बाद में 58 हजार के आसपास आ जाता है। कुल मिलाकर 61 हजार के रेजिस्टेंस को बाजार तोड़ने की कोशिश में है। ऐसा संभव है। शेयर बाजार 62 हजार का स्तर पार करेगा। अगर अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय परिस्थितियों में कुछ अप्रत्याशित घटनाक्रम न हो तो ऐसा संभव है। ऐसे में निवेशकों को चाहिए कि वे लांग टर्म के लिए निवेश करें। लांग टर्म निवेश में लाभ होने की पूरी पूरी संभावना है। शार्ट टर्म में स्थिति बदलती रहती है। एक शेयर में लाभ जुटाकर दूसरे में शिफ्ट हो, बस बाजार से बाहर न निकलें। ऐसे में बेहतर रिटर्न के साथ आर्थिक भविष्य को भी सुरक्षित किया जा सकता है। कुल मिलाकर अभी वैश्विक और देश की अर्थव्यवस्था के साथ बाजार का व निवेशकों का भविष्य भी उज्जवल नजर आ रहा है। इसलिए अभी से अपने लिए उपयुक्त निवेश की योजना बनाकर उस दिशा में काम प्रारंभ कर देना चाहिए। जिससे अधिक से अधिक रिटर्न प्राप्त कर सकें।

हेल्थ केयर पर संगोष्ठी 28 को

जीवाजी विश्वविद्यालय के सेंटर फोर हास्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन विभाग की ओर से ग्लोबल इश्यूज एंड चैलेंजेस इन हेल्थ केयर के विषय पर एक राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन 28 मई को किया जा रहा है। इस राष्ट्रीय संगोष्ठी का शुभारंभ 28 मई को सुबह 10.30 बजे से जीवाजी विश्वविद्यालय के पालीटिकल साइंस एंड पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन विभाग के सभागार में होगा। इसमें हेल्थ केयर को लेकर कई सुझाव दिए जाएंगे और साथ ही चुनौतियों के ऊपर चर्चा होगी। बता दें कि कार्यक्रम में मुख्य पैट्रन के रूप में जेयू के कुलपति प्रो. अविनाश तिवारी, पैट्रन के रूप में कुलाधिसचिव प्रो.डीएन गोस्वामी व ज्वाइंट पैट्रन के रूप में कुलसचिव डा. राजेंद्र कुमार बघेल मौजूद रहेंगे।

Posted By: anil tomar

Mp
Mp