Gwalior PM Awas News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। प्रधानमंत्री आवास योजना सहित सिटी सेंटर के एक हजार से अधिक आवासों में रहने वाले लोगों की सहूलियत के लिए नगर निगम 10 माह बाद भी सड़क तैयार नहीं करा पाया है। इतने महीनों से 2.16 करोड़ रुपए की लागत से कर्मचारी आवास कालोनी से लेकर अलकापुरी तिराहे तक सीमेंटेड रोड तैयार की जानी है, लेकिन यह प्रस्ताव सिर्फ फाइलों में ही दम तोड़ रहा है। महलगांव पहाड़ी पर तैयार किए गए पीएम आवास योजना के 256 आवासों में निगम लोगों को पजेशन भी दे रहा है, लेकिन सड़क तैयार नहीं होने के कारण हितग्राहियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वर्तमान में यहां सिर्फ मुरम की गड्ढों भरी सड़क है।

नगर निगम द्वारा कर्मचारी आवास कालोनी के पास महलगांव पहाड़ी पर प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत विभिन्न ब्लाक में टू बीएचके और थ्री बीएचके फ्लैटों का निर्माण कराया जा रहा है। इनमें से कई फ्लैट अब तैयार हो चुके हैं। इन फ्लैटों के निर्माण के साथ ही इस इलाके में खाली पड़े प्लाटों पर भी लोगों ने भवन बनाकर तैयार कर दिए हैं, क्योंकि पहले इस इलाके में रिहाइश नहीं थी। नगर निगम के फ्लैट तैयार होने के बाद रिहाइश की उम्मीद में अब यहां लोग अपने लिए घर बना रहे हैं, लेकिन असली समस्या सड़क को लेकर है। पहाड़ी के ठीक सामने से लेकर अलकापुरी तिराहे तक सड़क पूरी तरह से बेकार हो चुकी है और यहां से वाहन हिचकोले खाते हुए निकलते हैं। गत फरवरी माह में नगर निगम ने इस सड़क के निर्माण के लिए 2.16 करोड़ रुपए की लागत का एक प्रस्ताव तैयार कर लिया था, लेकिन तब से लेकर अब तक यह कार्रवाई आगे ही नहीं बढ़ पाई है। दूसरी तरफ अब हितग्राही पीएम आवास के फ्लैटों में रहने के लिए पहुंच रहे हैं, लेकिन उन्हें भी सड़क के कारण परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

-तीन तरफ से रास्ता, दो तरफ से बर्बाद-

इन आवासों तक जाने के लिए तीन तरफ से रास्ता बना हुआ है। पहला रास्ता महलगांव से कर्मचारी आवास कालोनी होते हुए यहां तक पहुंचता है। दूसरा रास्ता विवेकानंद नीडम की ओर से है। यहां अभी आरओबी का काम चल रहा है। इसलिए सड़क की दिक्कत है। तीसरा रास्ता अलकापुरी तिराहे से होकर यहां तक पहुंचता है। यहां अलकापुरी, नटराज एस्टेट, लोटस विला जैसी पाश कालोनियां हैं। यह रास्ता पूरी तरह से बर्बाद हो चुका है।

-रात में पसरा रहता है अंधेरा-

इसके अलावा इस पूरे मार्ग पर रात के समय रोशनी की कोई व्यवस्था नहीं है। फ्लैटों में रहने पहुंचे नौकरीपेशा लोग जब देर रात घरों को जाते हैं, तो सड़कों पर अंधेरा मिलता है। खराब सड़क और अंधेरे के कारण दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। पीएम आवास योजना से जुड़े अधिकारियों ने इस रोड पर स्ट्रीट लाइट की व्यवस्था करने के लिए विद्युत शाखा को पत्र लिखा है, लेकिन वहां से इस मामले में अभी कोई प्रक्रिया नहीं हुई है।

वर्जन

प्रक्रिया चल रही है

कर्मचारी आवास कालोनी से अलकापुरी तिराहे तक सड़क निर्माण के लिए प्रस्ताव तैयार कर लिया गया था। इस सड़क के निर्माण के लिए प्रक्रिया चल रही है। जल्द ही टेंडर प्रक्रिया कराई जाएगी।

पवन सिंघल, नोडल अधिकारी पीएम आवास नगर निगम

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close