- सवाल-भाजपा नेताओं से सर्किट हाउस में मिलने वाले कलेक्टर क्यों कर रहे आनलाइन बैठक?

Gwalior political news: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। कोरोना के संकट से शहर को बचाने के लिए बुधवार को क्राइसेस मैनेजमेंट की आनलाइन बैठक आयोजित की गई। लेकिन इस बैठक का कांग्रेस विधायकों के साथ ही अन्य कांग्रेस पदाधिकारियों ने बहिष्कार कर दिया। ग्वालियर दक्षिण विधानसभा से विधायक प्रवीण पाठक का कहना है कि शहर की 14 लाख से अधिक की जनता से जुड़े फैसले आनलाइन बैठक में नहीं लिए जा सकते। पाठक ने प्रशासन को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि जब भाजपा के नेता और मंत्रियों से सर्किट हाउस में जाकर कलेक्टर साहब मिल सकते हैं, तो फिर क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक ऑनलाइन क्यों की जा रही है। विधायक पाठक का कहना है कि क्राइसेस की बैठक खुले मंच पर की जानी चाहिए। इस बैठक में शारीरिक दूरी व मास्क है जरूरी का पालन करते हुए सभी जनप्रतिनिधि, अधिकारी, व्यापारी संगठनों के प्रतिनिधि व पत्रकार शामिल रहें। विधायक का कहना है कि पहले से निर्धारित निर्णयों को थोपने के लिए जनाता से छुपाकर की गई आनलाइन बैठक का कोई औचित्य नहीं है। सच सुनने का साहस होना चाहिए, जब तक जनता की बात सुनेंगे नहीं तो समझेंगे कैसे।माननीय 16 आनलाइन बैठक का ग्वालियर पूर्व से विधायक डा.सतीश सिंह सिकरवार ने भी बहिष्कार किया। जिन्होंने बताया कि कांग्रेस जिला अध्यक्ष देवेंद्र शर्मा, विधायक लाखन, डबरा विधायक सुरेश राजे ने भी बैठक का बहिष्कार किया।

दिल्ली मुंबई में लाकडाउन वापस लौटने वालों की बढ़ रही संख्या: दिल्ली व मुबंई में हुए लाकडाउन के कारण वहां से वापस लौटने वाले लोगों की संख्या बढ़ गई है। दिल्ली व मुबंई से आने वाली ट्रेनों में भीड़ बढने लगी है। दिल्ली, मुबंई में कोरोना के कारण काफी हालात खराब हैं, इसके कारण लाकडाउन खत्म होने के बाद वापस काम पर गए प्रवासी मजदूरों का वापस लौटना प्रारंभ हो गया है। दिल्ली व महाराष्ट्र से आने वाली पंजाब मेल, मंगला एक्सप्रेस, गोवा एक्सप्रेस, भोपाल एक्सप्रेस, झेलम एक्सप्रेस, केरला एक्सप्रेस, जीटी एक्सप्रेस, निजामुद्दीन जबलपुर एक्सप्रेस से मजदूरों का वापस लौटना प्रारंभ हो गया है। लाकडाउन के पहले दिल्ली व महाराष्ट्र से आने वाली ट्रेनों में प्रवासी मजदूरों एवं अन्य लोग सीमित संख्या में आ रहे थे, लेकिन अब तादाद काफी बढ़ गई है।

Posted By: anil.tomar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags