Gwalior Political News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। ओबीसी महासभा ने केंद्रीय मंत्री ज्याेतिरादित्य सिंधिया काे स्वागत यात्रा के दाैरान काले झंडे दिखाकर विराेध प्रदर्शन किया। इस दाैरान पुलिस ने दस कार्यकर्ताओं काे गिरफ्तार भी किया है। वहीं कांग्रेस ने स्वागत यात्रा के विराेध स्वरूप फूलबाग चाैराहे पर धरना दिया है। जबकि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने काले गुब्बारे छाेड़कर विराेध जताया।

स्वागत यात्रा के दौरान सिंधिया को काले झंडे दिखाने के मामले में पुलिस ने ओबीसी महासभा के 10 कार्यकर्ताओं काे गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार हुए लोगों में धर्मेन्द्र सिंह कुशवाह निवासी घास मंडी, राय सिंह निवासी पंचशील नगर, राजेश कुशवाह त्यागी नगर मुरार, राहुल बरैया किला गेट, सौरभ कुशवाह रुधपुरा पुरानी छावनी, जितेंद्र उर्फ जीतू लोधी हजीरा, विश्वजीत रतौनिया घोसपुरा हजीरा, सुरेंद्र कुशवाह ग्राम हिम्मतगढ़ थाना पनिहार, हेतराम कुशवाह हिम्मतगढ़ एवं राहुल बरैया निवासी डीआरपी लाइन शामिल हैं।

छतों से सांकेतिक रूप से ही आसमान में छोड़े काले गुब्बारेः कांग्रेस ने विरोध स्वरूप पांच लाख गैस के काले गुब्बारे उड़ाने की बात कही थी। मगर बुधवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने घर की छतों से सांकेतिक तौर पर सीमित गुब्बारे ही उड़ाए। विधायक सिकरवार का आरोप है हमारी रणनीति का भाजपा व सिंधिया समर्थकों को पता लग गया था। ऐसे में शहर के तमाम गुब्बारे बेचने वालों को पुलिस द्वारा धमकाया गया। गली-मोहल्लों में गुब्बारे बेचने वालों के साथ मारपीट भी की गई है।

कांग्रेस ने दिया धरनाः केंद्रीय उड्डयन मंत्री बनकर पहली बार गृह नगर ग्वालियर आए ज्योतिरादित्य सिंधिया का गांधीगीरी के साथ कांग्रेस ने विरोध किया। कांग्रेस ने फूलबाग चौराहे पर दोपहर 12 से 2:30 बजे तक धरना-प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सिंधिया के विरोध में मुखर नजर आए। भारी पुलिस बल धरना स्थल पर तैनात रहा। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि कोरोना गाइड लाइन व धारा 144 व 188 को तोड़ने का काम सिंधिया द्वारा किया गया है। कोरोना के कारण दिवंगत हुए लोगों को श्रद्धांजलि तो उन्होंने दी नहीं, उल्टा खुद के स्वागत के लिए विशाल रैली निकाल रहे हैं। कांग्रेसियों ने यह भी कहा कि सिंधिया परिवार गद्दार रहा है और गद्दार ही रहेगा। बहुत अच्छा हुआ जो वह कांग्रेस से भाजपा में पहुंच गए।

भाजपा महल की गुलाम हुईः ग्वालियर पूर्व के कांग्रेस विधायक डा. सतीश सिकरवार ने कहा, पूरे शहर में सड़कें बदहाल हैं। गंदगी के अंबार लगे रहते हैं, स्ट्रीट लाइट बंद रहने के कारण सड़कों-मोहल्लों में अंधेरा फैला रहता है। पीने का पानी भी हर क्षेत्र में सुलभ नहीं है। कांग्रेस नेता राजकुमार शर्मा ने कहा कि धरना-प्रदर्शन में आया विशाल जनसमूह इस बात का साक्षी है कि कांग्रेस महल से अलग हो गई है, मगर अब भाजपा महल की गुलाम हो गई है। इसके शहर जिला कांग्रेस अध्यक्ष डा. देवेंद्र शर्मा व पूर्व मंत्री विधायक लाखन सिंह यादव ने कहा- अंचल में बाढ़ आने के कारण किसान बेघर हो गए। उनके लिए न रहने को मकान है न खाने को अनाज। जो नेता सिंधिया के स्वागत में जीजान से जुटे हुए हैं, वे किसानों का हाल जानने तक नहीं पहुंचे।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local