Gwalior Public Transport News: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। कोविड-19 कर्फ्यू खत्म होने के बाद मंगलवार से बसें सड़कों पर दौड़ने लगी, लेकिन पहले दिन सीमित सख्यां में बसें चली। इन बसों को जो यात्री मिले, बस स्टैंड व रास्ते में यात्रियों से दुगना किराया मांगा गया। किराये को लेकर यात्री व कंडक्टर के बीच बहस भी देखने को मिली। शिवपुरी का किराया 144 रुपये है, लेकिन एक सवारी से 300 रुपये मांगे जा रहे थे। एक साथ दो सवारी होने पर प्रति सवारी 200 रुपये लिए गए। यात्रियों को अपने गंतव्य तक जाने के लिए अधिक किराया खर्च करना पड़ा।

कोविड-19 के संक्रमण को देखते हुए 29 अप्रैल से बसों के संचालन पर प्रतिबंध लगाना शुरू कर दिया था। ग्वालियर-चंबल संभाग के कलेक्टरों ने अपने-अपने जिले की बसों का आवागन बंद कर दिया। मई में जिले के रूटों पर चलने वाली बसें बंद रही। संभाग में कोविड-19 कर्फ्यू खत्म होने पर एक महीने बाद बसें चली हैं। आपरेटरों ने सीमित संख्या में बसें सड़कों उतारी हैं। किराया बढा लिया। पहले दिन बस स्टैंड पर दतिया, भिंड, शिवपुरी, गुना, जाने वाली बसों के किराए की पड़ताल की तो दुगना किराया मांगा जा रहा था। कंडक्टर व यात्री ने किराए को लेकर वार्गेनिंग करने के बाद कुछ पैसे भी कम किए। 52 सीटर में ज्यादा किराया मांग रहे थे। 32 सीटर में 52 सीटर की तुलना में कम किराया लिया जा रहा था।

शासन ने 25 फीसद बढ़ाया है किराया: डीजल वृद्धि को देखते हुए शासन ने हाल ही में साधारण बसों का किराये में बढ़ोतरी की है। 1 रुपये प्रति किमी से बढाकर किराया 1.25 रुपये प्रति किमी किया गया है। 25 फीसद की बढ़ोतरी की गई है। इससे ज्यादा किराया नहीं लिया जा सकता है। पिछले साल के लाक डाउन से ही बस आपरेटरों ने किराया बढ़ा लिया था। उसके बाद से कम नहीं किया था। कोविड-19 कर्फ्यू के बाद किराया बढाया है।

इंटर स्टेट बंद रही बसें

- कोविड-19 के संक्रमण के चलते इंटर स्टेट बसों को 7 जून तक बंद रखने अादेश दिया गया है। इन बसों के संचालकों ने अपने परमिट भी सरेंडर कर दिए हैं।

- क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय में 350 परमिट सरेंडर हैं। बस आपरेटर इन परमिटों को उठाने नहीं पहुंचे हैं। मुरैना के लिए हर पांच मिनट पर बस थी, लेकिन सरकारी बस स्टैंड पर मंगलवार को बस नहीं दिखीं। गोले के मंदिर से ही बहुत कम संख्या में बसें चली।

ग्वालियर से दूसरे जिले के लिए किराया

जिला किराया मांगे गए

शिवपुरी 144 300

गुना 265 400

दतिया 97.00 125

भांडेर 150 200

भिंड 100 125

(प्रति यात्री किराया मांगा गया। वार्गेनिंग करके पैसे कम भी किए गए। )

इनका कहना है

- बस स्टैंड पर नई किराया सूची चस्पा कर दी है। अापरेटरों को भी भेज दी है। यात्रियों से ज्यादा किराया नहीं वसूल सकते हैं। इस संबंध में आपरेटरों से चर्चा करेंगे।

एसपीएस चौहान, आरटीओ

- स्टैडों पर यात्री नहीं है। बसों के डीजल का भी खर्च नहीं निकल रहा है। काफी कम संख्या में बसें चली है।

पदम गुप्ता, महासचिव मप्र रोडवेज बस आपरेटर यूनियन

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local