Gwalior Railway News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। उत्तर मध्य रेलवे के अंतर्गत ग्वालियर से बनकर चलने वाली दो और ट्रेनों के एसी कोच के यात्रियों को बेडरोल (कंबल, चादर व तकिया) की सुविधा उपलब्ध होने लगी है। यह सुविधा ग्वालियर-हावड़ा चंबल एक्सप्रेस और ग्वालियर-बलरामपुर सुशासन एक्सप्रेस में शुरू की गई है। चंबल एक्सप्रेस में मंगलवार व सुशासन एक्सप्रेस में बुधवार से यह सुविधा बहाल की गई है। आगामी 30 मई से ग्वालियर-रतलाम इंटरसिटी में भी यात्रियों को बेडरोल मिलने शुरू हो जाएंगे। इसके अलावा ग्वालियर से बरौनी जाने वाली बरौनी मेल गोंडा स्टेशन पर नान इंटरलाकिंग कार्य के चलते आठ जून तक निरस्त की गई है। ऐसे में ट्रेन के बहाल होने पर उसमें भी यह सुविधा शुरू कर दी जाएगी।

गौरतलब है कि रेलवे बोर्ड ने गत 10 मार्च को आदेश जारी कर ट्रेनों के एसी कोच में यात्रियों को बेडरोल मुहैया कराने के आदेश जारी किए थे। ग्वालियर में मैकेनाइज्ड लाउंड्री का संचालन बंद होने के कारण स्थानीय स्तर पर धुलाई की व्यवस्था कर सिर्फ बुंदेलखंड एक्सप्रेस में यात्रियों को यह सुविधा उपलब्ध कराई जा रही थी। ग्वालियर से बनकर चलने वाली चार अन्य ट्रेनों के यात्रियों को इंतजार करना पड़ रहा था, लेकिन अब बुधवार तक कुल तीन ट्रेनों में यह सुविधा बहाल हो गई है। इससे यात्रियाें काे बड़ी राहत मिली है।

एक सितंबर से आठ मिनट पहले आएगी उत्कल एक्सप्रेसः रेलवे ने पुरी से हरिद्वार के बीच चलने वाली गाड़ी संख्या 18477 उत्कल एक्सप्रेस के समय में बदलाव किया है। यह बदलाव आगामी एक सितंबर से प्रभावी होगी। रेलवे द्वारा किए गए बदलाव के चलते पुरी से चलने वाली उत्कल एक्सप्रेस अब आठ मिनट पहले ग्वालियर पहुंचेगी। इस ट्रेन के ग्वालियर आने का समय सुबह 7:24 बजे का है, लेकिन एक सितंबर से यह ट्रेन 7:16 बजे ग्वालियर पहुंचेगी। गाैरतलब है कि थर्ड एवं फाेर्थ लाइन का भी काम तेज गति से जारी है। इससे आगामी समय में ट्रेनाें की रफ्तार में और तेजी आएगी।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close