Gwalior Railway News: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। रनिंग ट्रेनों में आए दिन पथराव व रेल ट्रैक पर पत्थर रखने की बढ़ती घटनाओं को देखते हुए आरपीएफ डीजी के निर्देश पर रायरू से लेकर सिथौली तक चालीस किलोमीटर रेल सैक्शन पर राउण्ड द- क्लॉक गश्तीदल की तैनाती की है। इस विशेष स्क्वाड में तीन आरपीएफ उप निरीक्षकों के साथ ही आधा दर्जन आरक्षक शामिल है। साथ डी स्टोन प्लेटिंग क्षेत्र के जद में आने वाले गांवों में आरपीएफ के अफसर व जवान पहुंचकर ग्रामीणों को समझाइश भी दे रहे हैं। झांसी रेल मण्डल की जद में आने वाले ग्वालियर रेल सेक्शन रायरु से सिथौली के मध्य आए दिन रनिंग ट्रेनों में स्टोन प्लेटिंग के साथ ही रेल ट्रैक पर अवरोध पैदा करने की घटनाओं को रोकने व पत्थरबाजों व रेलवे की संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले असामाजिक तत्वों पर नजर रखने के लिए आरपीएफ का विशेष स्क्वाड 24 घंटे गश्त कर विशेष नजर रखेगा।

समता एक्सप्रेस का इंजन हुआ था क्षतिग्रस्त- इस रूट पर बीते तीन महीनों के दौरान रनिंग ट्रेनों में पथराव की तीन घटनाएं सामने आने के साथ ही सात दिन पहले ही सिथौली-संदलपुर रेल सैक्शन पर अप ट्रैक पर रखे पत्थर से समता एक्सप्रेस का इंजन क्षतिग्रस्त हो गया था। जिससे समता एक्सप्रेस क्षतिग्रस्त होते-होते बाल-बाल बची थी।

ये इलाके हैं हॉट-स्पॉट: सबसे अधिक स्टोन प्लेटिंग की घटनाएं ग्वालियर रायरू व ग्वालियर सिथौली संदलपुर सैक्शन का ये 40 किमी रेल सेक्शन पत्थरबाजी की घटनाओं को लेकर हॉटस्पॉट बन चुका है। इस रेल सैक्शन पर अब आरपीएफ का विशेष स्क्वाड विशेष सख्ती कर पत्थरबाजों की धरपकड़ करेगा, जिससे स्टोन प्लेटिंग की घटनाओं पर ब्रेक लग सके।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local