Gwalior Railway News: प्रियंक शर्मा, ग्वालियर नईदुनिया। ट्रेन से सफर करने के लिए ग्वालियर रेलवे स्टेशन आने वाले मूकबधिर व दृष्टिहीन यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे द्वारा जल्द ही ग्वालियर स्टेशन पर ब्रेल लिपि का उपयोग किया जाएगा। इसमें साइन बोर्ड से लेकर अन्य सुविधाओं को दर्शाने वाले संकेतक ब्रेल लिपि में तैयार किए जाएंगे। दृष्टिबाधित यात्रियों को ट्रेन से संबंधित जानकारी के लिए स्टेशन पर भटकने के साथ ही अन्य व्यक्ति पर निर्भर नहीं रहना होगा। ग्वालियर स्टेशन पर मूकबधिरों के लिए भी साइन भाषा व दृष्टिहीनों के लिए ब्रेल लिपि में जानकारी स्टेशन के सभी प्लेटफार्म पर जल्द ही उपलब्ध कराई जाएगी।

इसके लिए स्टेशन के मुख्य वीआइपी गेट से लेकर स्टेशन परिसर के विभिन्न स्थानों पर क्यूआर कोड स्कैन की सुविधा के लिए बोर्ड चस्पा किए जाएंगे। साथ ही ब्रेललिपि वाले बोर्ड भी लगाए जाएंगे। मूकबधिरों व दृष्टिहीनों के लिए झांसी रेल मंडल द्वारा अनूठी पहल से दिव्यागों को सफर करना आसान हो जाएगा। मूकबधिर व दृष्टिहीन मुसाफिरों को स्टेशन पर ट्रेन संबंधित जानकारी व अन्य जनसुविधाओं को लेकर परेशान होना पड़ता है और इन सुविधाओं के लिए दूसरे यात्रियों की मदद लेनी पड़ती है। दिव्यांगों की परेशानी को देखते हुए यह विशेष सुविधा चंडीगढ़ की एनजीओ संस्था मिक माइन ने आगरा-मथुरा में शुरू की है, जिसे अच्छा रिस्पांस मिला है। इसे देखते हुए यह सुविधा जल्द ही ग्वालियर पर भी उपलब्ध होगी। यह सुविधा प्रयागराज-आगरा के बाद जल्द ही वीरांगना लक्ष्मीबाई स्टेशन सहित ग्वालियर में उपलब्ध होगी। इस सुविधा के लिए संबंधित को प्लेटफार्म पर चस्पा किए जाने वाले क्यूआर कोड स्टेशन के मुख्य प्रवेश द्वार पर लगाया जाएगा। इसके स्कैन करते ही सीधे वीडियो लिंक खुल जाएगी। वीडियो में एक प्रशिक्षक साइन भाषा यानी इशारों में पूरी जानकारी मूकबधिर मुसाफिर को देगा, वहीं दूसरा प्रशिक्षक बोलकर दृष्टिबाधित यात्रियों को समझाएगा। इसके माध्यम से यात्रियों को भटकने की जरूरत नहीं होगी। साथ ही उन्हें यह पता चल जाएगा कि कहां टिकट घर है, कहां पीने के पानी की व्यवस्था है और कहां शौचालय है।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close