Gwalior Railway News: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। माता-पिता की डांट एक सोलह वर्षीय नाबालिग को इतनी बुरी लगी कि यह नाबालिग घर से स्कूल जाने के बहाने निकली और अलीगढ़ से आगरा पहुंचकर गोवा एक्स्प्रेस में सवार हो गई। रनिंग ट्रेन में गश्त कर रहे जीआरपी स्क्वाड के जवानों की जैसी ही इस गुमसुम बैठी नाबालिग पर नजर पड़ी वैसे ही उसने पूछताछ की। पूछताछ में जवानों को घर से भागना बताया। नाबालिग को जीआरपी स्क्वाड ने झांसी उतारकर उसे जीआरपी झांसी के सुपुर्द कर उसके माता-पिता को सूचना दी।

जीआरपी से मिली जानकारी के अनुसार बीती रात ग्वालियर जीआरपी स्क्वायड में शामिल आरक्षक अनुज तोमर व सूरज पाराशर ग्वालियर से बीना तक यात्रियों को सुरक्षा देने के लिए गोवा एक्सप्रेस 02173 के कोचों में पेट्रोलिंग कर रहे थे। उसी दौरान एक कोच की सीट नंबर 25 में एक नाबालिग स्कूल यूनिफार्म में बैठी दिखाई दी।नाबालिग पुलिस जवानों को देख घबरा गई। नाबालिग को घबराई देख तत्काल इस मामले की जानकारी जवानों ने झांसी कंट्रोल को देने के साथ ही नाबालिग से पूछताछ की। नाबालिग से बताया कि मातापिता की डांट से नाराज होकर वह घर छोड़कर गोवा जाने के लिए ट्रेन में आगरा से सवार हो गई थी। नाबालिग ने बताया वह अतरौली यूपी की रहने वाली। ट्रेन के झांसी पहुंचने पर नाबालिग को जीआरपी के सुपुर्द कर तत्काल उससे मिले पिता के मोबाइल नंबर पर सूचना दी गई। सूचना मिलते ही परिजन नाबालिग को लेने के लिए अतरोली से रवाना हो गए।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local