- कश्मीर व हिमाचल जाने वालों की बढ़ जाती है संख्या

Gwalior Railway News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। यदि आप कश्मीर व हिमाचल में क्रिसमस व नया साल मनाने जाना चाहते हैं तो ट्रेनों में कन्फर्म टिकट नहीं मिलेगा। क्योंकि दिसंबर के अंत में जम्मू जाने वाली ट्रेनों के वातानुकूलित व स्लीपर क्लास में कन्फर्म टिकट नहीं है। लोगों ने पहसे से ही टिकट बुक करा लिए हैं। वहीं दूसरी ओर दक्षिण भारत की ओर जाने वाली ट्रेनों में कन्फर्म टिकट है, जैसे कि गोवा एक्सप्रेस के स्लीपर क्लास में अभी वेटिंग शुरू नहीं हुई है। कन्फर्म टिकट मिल सकता है।

पिछले दो साल से कोविड-19 के चलते लोग हिल स्टेशन पर क्रिसमस व नए साल का जश्न मनाने के लिए नहीं जा सके थे। साथ ही ट्रेनों में भी प्रतिबंध था। इस बार ट्रेनों में यात्रा करने पर प्रतिबंध नहीं है। न ही कोविड-19 का संक्रमण है। इस कारण लोग नए साल का जश्न हिल स्टेशन पर मनाने जाना चाहते है। जम्मू जाने वाली मालवा एक्सप्रेस, अंडमान एक्सप्रेस, झेलम एक्सप्रेस में टिकट नहीं है। झेलम एक्सप्रेस में ग्वालियर से वेटिंग का भी टिकट नहीं मिल रहा है। ट्रेन नो रूम हो गई है। मालवा भी 23 दिसंबर, 25 दिसंबर को नो रूम है। 24 व 26 दिसंबर को 60 से अधिक वेटिंग है। हिमाचल व कश्मीर में लोग बर्फबारी देखने जाना चाहते हैं। इस वजह इस ओर जाने वाली ट्रेनों में बर्थ फुल हैं। उत्तराखंड के हरिद्वार जाने वाली उज्जैन एक्सप्रेस कन्फर्म टिकट मिल रहा है, लेकिन उत्कल में वेटिंग है।

दक्षिण की ट्रेनों में वेटिंग नहीं

-वैसे ठंड के दौरान लोग समुद्र बीच पर जाना पसंद करते हैं। दक्षिण भारत की ओर जाने वाली ट्रेनों में दिसंबर के अंत में स्लीपर क्लास में बर्थ उपलब्ध है। यदि इसी हफ्ते टिकट बनवाते हैं तो कन्फर्म टिकट मिल जाएगा।

- महाराष्ट्र की ओर जाने वाली ट्रेनों में भी वेटिंग कम है।

दिल्ली तक ताज में आसानी से मिलने लगी सीट

ताज एक्सप्रेस का संचालन झांसी से बंद कर दिया। इसे ग्वालियर से चलाया जा रहा है। इस कारण ग्वालियर दिल्ली जाने वाली यात्रियों को वेटिंग का सामना नहीं करना पड़ रहा है। ताज एक्सप्रसे में अासानी से सीट मिल रही है। झांसी से चलने पर इस ट्रेन में भीड़ रहती थी। 28 फरवरी तक यह ट्रेन ग्वालियर से संचालित की जाएगी।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close