Gwalior Railway News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। ग्वालियर भिंड इटावा रेल मार्ग के उन्न्त हो जाने के बाद अब रेलवे ने ट्रेनों की स्पीड़ को बढ़ाने का निर्णय लिया है। इस मार्ग पर ट्रेन अब 100 किलोमीटर की स्पीड़ से दौड़ेंगी। इसके साथ ही तीसरी लाइन बिछाने का कार्य भी जल्द पूर्ण होगा। 9 माह के अंदर 70 किलोमीटर का रेलवे ट्रैक बिछाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। यह जानकारी पत्रकारों से वर्चुअल मीट के दौरान मंडल रेल प्रबंधक संदीप माथुर ने दी।

मंडल रेल प्रबंधक संदीप माथुर ने बताया कि ग्वालियर भिंड इटावा मार्ग के ट्रैक को 120 किलोमीटर प्रतिघंटे से रेल चलाने के लिए बनाया गया हैं। वर्तमान में अभी 80 किलोमीटर की स्पीड़ से इस मार्ग पर ट्रेनें संचालित हो रही हैं। जल्द ही इनकी स्पीड़ बढ़ाकर 100 किलोमीटर कर दी जाएगीं, वहीं तीसरी रेल लाइन बिछाई जा रही है। इसमें मुरैना से बबीना के बीच 9 माह में कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान में बिरलानगर से बानमौर, डबरा से आंतरी व बानमौर से मुरैना एवं झांसी से बबीना के बीच 70 किलोमीटर के हिस्से में कार्य चल रहा है। तीसरी रेल लाइन बिछाने का कार्य रेल विकास निगम लिमिटेड द्वारा किया जा रहा है। कार्य पूर्ण हो जाने के बाद इस ट्रैक पर 130 किलोमीटर की स्पीड़ से ट्रेनों को चलाया जा सकेगा।

अग्नि पहचान प्रणाली से लैस होने लगी ट्रेनेंः ट्रेनों में आगजनी की घटनाओं को रोकने के लिए जल्द ही अग्नि पहचान प्रणाली लगाई जाएगी। इस प्रणाली के लगते ही कोच से धुंआ उठते ही यह सायरन बजा देगा। प्रारंभ में झांसी मंडल से संचालित होने वाली ट्रेनों के 45 एसी कोचों में इस प्रणाली को लगाया जाएगा। इसमें से अभी तक 43 कोचों में यह प्रणाली लगाई जा चुकी है। ट्रेनों में आगजनी की घटनाएं अक्सर हो जाती हैं, इसके कारण रेलवे को काफी नुकसान हेाता है। साथ ही जानमाल का भी भारी नुकसान हेाता है। ऐसे में आगजनी की घटनाओं को रोकने के लिए रेलवे ने लगभग एक करोड़ की लागत से एसी कोचों में अग्नि पहचान प्रणाली लगाना प्रारंभ कर दी है। झांसी मण्डल से वर्तमान में झांसी बांद्रा एक्सप्रेस, झांसी लखनऊ इंटरसिटी, झांसी इटावा एक्सप्रेस, झांसी इंदौर एक्सप्रेस आदि संचालित की जा रही हैं।

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags