Gwalior Railway News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। आगरा-झांसी अप ट्रैक स्थित संदलपुर-आंतरी के बीच आधी रात को एक युवक की ट्रेन से कटकर मौत हो गई। युवक की पहचान लाल सिंह प्रजापति उम्र 35 वर्ष निवासी घई डबरा के रूप में हुई है। मृतक घई गांव में ही सब्जी का ठेला लगाकर परिवार की गुजर कर रहा था। उसके एक लड़का व एक लड़की है।

आंतरी थाना प्रभारी रमाकांत उपाध्याय ने बताया कि, जौरासी आंतरी मार्ग पर गेट क्रमांक 409 पर तैनात गेटमैन कर्मचारी ने सूचना दी कि ग्वालियर झांसी आप ट्रैक पर आंतरी संदलपुर के बीच पाेल क्रमांक 1205/25/27 पर 35 वर्षीय युवक की ट्रेन से कटकर मौत हो गई है। जानकारी लगते ही पुलिस भी माैके पर पहुंच गई। पुलिस काे घटनास्थल पर मृतक के शव के पास शराब की खाली बोतल और गिलास मिला है। साथ ही मृतक के शरीर पर कपड़े भी नहीं थे, कपड़े पास में ही रखे थे। पुलिस का कयास है कि मृतक ने शराब के नशे में आत्महत्या जैसा कदम उठाया है। माैके पर पंचनामा बनाकर शव पोस्टमार्टम के लिए रखवा दिया गया है। मृतक के कपड़ों से कोई भी सामान बरामद नहीं हुआ है, जिससे यह अंदाजा लगाया जा सके कि मृतक कहां से है। हालांकि कुछ देर बाद मृतक की पहचान हाे गई।

आटो और बोलेरो भिड़ने से भाई बहन घायल, ग्वालियर रेफरः ग्वालियर जिले के भितरवार थाना क्षेत्र के आदमपुर पुलिया के पास तीन पहिया आटो रिक्शा एवं बोलेरो वाहन की भिड़ंत में भाई-बहन गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलाें काे भितरवार पुलिस ने सामुदायिक अस्पताल पहुंचा दिया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को गंभीर हालत में ग्वालियर रेफर किया गया। जानकारी के अनुसार शनिवार की सुबह ग्वालियर से एक ही परिवार के आधा दर्जन लोग तीन पहिया आटो रिक्शा में सवार होकर शिवपुरी जिले के नरवर स्थित लोहड़ी माता पूजने के लिए गए हुए थे। बाद में दोपहर के समय लोड़ी माता मंदिर पर पूजा करके लौट कर वापस ग्वालियर के लिए जा रहे थे, भितरवार हरसी मुख्य सड़क मार्ग स्थित आदमपुर की पुलिया के पास ही आटो रिक्शा से पहुंचे थे। इसी दाैरान सामने से आ रही एक बोलेरो वाहन के चालक ने गाड़ी के सामने अचानक कुछ आ जाने के कारण ब्रेक लगा दिए, जिससे आटो रिक्शा बोलेरो वाहन में पीछे से जा घुसा और पलट गया। इस हादसे में वाहन में सवार 32 वर्षीय उषा रजक पत्नी अशोक रजक एवं भाई दिलीप पुत्र रामअवतार रजक निवासी ग्वालियर गंभीर रूप से घायल हो गए।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close