- मासूम के साथ गर्भवती महिला के फांसी के फंदे पर लटकने का मामला

Gwalior suicide News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। तीन साल के मासूम बेटे के साथ फांसी लगाकर आत्महत्या करने से पहले सात माह की गर्भवती प्रीति ने चार पेज का सुसाइड नोट लिखने के साथ ही अपने हाथ पर भी पति,जेठ व सास के नाम पर लिखे हैं। नाम के साथ मृतका ने लिखा है कि यह लोग उसकी मौत के जिम्मेदार हैं। मृतका के घरवाले भी ससुरालियों पर प्रीति की हत्या करने का आरोप लगा रहे हैं। उनका आरोप है कि उसे शादी के बाद से ही परेशान किया जा रहा था। बेटी ने कई बार सास, जेठ व पति द्वारा परेशान करने की बात बताई थी। हम लोग उसको ससुराल भेजने के लिए तैयार नहीं थे। पति व अन्य ससुराली उसे जबरन रक्षाबंधन के बाद ले आए थे।

अब इन्हीं के साथ खुश रहना

प्रीति ने फांसी लगाने से पहले चार पेज का सुसाइड नोट लिखा है। प्रीति ने पति राजकुमार, जेठ जितेंद्र प्रजापति व सास पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए पति के बारे में लिखा है कि तुम हमेशा सास व जेठ का पक्ष लेते थे। अब उन्हीं के साथ खुश रहना। उनके कारण मुझसे मारपीट करते थे। पति के शराब पीकर भी मारपीट करने व जुए का भी उल्लेख किया है। सुसाइड नोट में मृतका ने जेठ, जेठानी, सास को भी जिम्मेदार ठहराया है। पुलिस ने सुसाइड नोट जब्त कर लिया है। पुलिस ने विवाहिता के आत्महत्या का कारण पता लगाने के लिए जांच शुरू कर दी है।

जेठ ने कहा- बहू को कोई परेशान नहीं करता था़

जेठ जितेंद्र प्रजापति का कहना है कि प्रीति को घर में कोई परेशान नहीं करता था। आज अगर कोई बात हुई होती तो वह दोनों वक्त का खाना क्यों बनाती, उसने पूरे घर को खाना बनाकर खिलाया और खुद भी खाया था। अचानक न जाने ऐसा क्या हो गया कि उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

माधवी नगर गोसपुरा में विवाहिता ने तीन साल के बेटे के साथ फांसी लगाकर आत्महत्या की है। पड़ताल के लिए फोरेंसिक टीम को भी मौके पर बुलाया था। चार पेज के सुसाइड नोट के साथ मृतका ने मौत के जिम्मेदारों के नाम भी हाथ पर लिखे हैं। हजीरा थाना पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है। सुबह दोनों के शवों का पीएम कराया जाएगा। जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके अनुुसार कार्रवाई की जाएगी।

रवि भदौरिया, सीएसपी

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local