Gwalior Two youths drown in Sindh News: प्रदीप अग्रवाल. ग्वालियर-भितरवार (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ग्वालियर के दो युवक भितरवार के प्रसिद्ध धूमेश्वर महादेव मंदिर के समीप बहने वाली सिंध नदी के तेज बहाव में बह गए। रविवार दोपहर की घटना के बाद देर रात नौ बजे तक चलाए गए रेस्क्यू ऑपरेशन में युवकों का पता नहीं चल सका। अंधेरे के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन के रोकना पड़ा। दोनों युवकों के स्वजन मौके पर ही मौजूद हैं। सुबह होने पर पुन: ऑपरेशन शुरू होने का इंतजार कर रहे है। बताया गया है कि ग्वालियर के दोनों लापता युवक अपने दोस्तों के साथ यहां पिकनिक मनाने गए थे।

नईसड़क निवासी किशन (22) पुत्र राजेश होतवानी और कितांशु (23) पुत्र कैलाश शाक्य निवासी हुजरात पुल कंपू रविवार की दोपहर साथियों के साथ दो अलग-अलग टोली बनाकर बाइकों से धूमेश्वर महादेव मंदिर पर दर्शन करने और पिकनिक मनाने गए थे। किसी ने अपने घर नहीं बताया था। कुछ साथी घर से नहाकर आए थे, वे मंदिर में दर्शनार्थ चले गए। कुछ युवक दोपहर करीब ढाई बजे मंदिर के पास बहती सिंध नदी में बने झरने के पास नहा रहे थे। नहाकर निकले तो कितांशु शाक्य का पैर फिसल गया और वह नदी के पानी के तेज बहाव में गोते खाने लगा। किशन होतवानी उसे बचाने के लिए नदी में कूदा। दोनों ही युवक देखते-देखते बह गए मौके पर मौजूद लोगों ने सूचना तत्काल प्रशासन को दी। तकरीबन एक घंटे बाद भितरवार का पुलिस प्रशासन मौके पर स्थानीय होमगार्ड के गोताखोरों को लेकर मौके पर पहुंचा और नदी में बहे युवकों की सर्चिग शुरू कराई। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देहात जय राज कुबेर, एसडीएम अश्वनी कुमार रावत एवं थाना प्रभारी पंकज त्यागी भी मौके पर पहुंचे और एसडीआरएफ की टीम अपने गोताखोर और स्टीमर इत्यादि लेकर मौके पर पहुंची। लेकिन दोनों का कोई सुराग नहीं लगा। अंधेरा होने के कारण प्रशासन को रात नौ बजे रेस्क्यू ऑपरेशन रोकना पड़ा।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local