Gwalior UNESCO News: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। यूनेस्को ने अर्बन लैंडस्कैप सिटी प्रोग्राम के तहत ग्वालियर को शामिल किया है। शहर में हेरिटेज के साथ लोगों का कैसा जुड़ाव है और वह किस नजर से इसे देखते हैं। इसका सर्वे यूनेस्को की टीम द्वारा किया जा रहा है। टीम के छह सदस्य इस समय लोगों के पास जाकर चर्चा कर रहे हैं। साथ ही वह यह देख रहे हैं कि शहर के लोगों का हेरिटेज के साथ किस प्रकार का संबंध है। वे किस प्रकार के शहर की हेरिटेज धरोहरों को देखते हैं।

यूनेस्को की टीम शनिवार को मोतीमहल, बैजाताल, किला आदि स्थानों पर पहुंची। यहां पर उन्होंने घूमने के लिए आए लोगों एवं स्थानीय लोगों से बात की। इस दौरान उन्होंने लोगों से बात की। साथ ही उन्होंने लोगों से पूछा कि वह शहर के पुरातत्व को किस प्रकार देखते हैं। लोगों ने बताया कि पुरातत्व से शहर की पहचान है, यहां पर कई ऐसी इमारतें हैं जिन्हें देखकर आंखों को सुकून मिलता है क्योंकि उनकी सुंदरता अद्भुत है। यह टीम शहर में कई दिनों तक रहेगी। इस दौरान यह शहर की प्रत्येक पुरातत्व साइड पर जाएगी और वहां लोगों से चर्चा कर विचार एवं सलाह दर्ज करेगी।

वर्जन

ग्वालियर में हेरिटेज का सर्वे चल रहा है यह सर्वे यूनेस्को की ओर से धरातल टीम कर रही है। इस सर्वे का डाटा भेजा जाएगा। इसमें लोगों की राय और सलाह आदि लेने के बाद शहर के विकास का मॉडल तैयार किया जाएगा।

रवि कुमार कावरे

अर्बन डिजाइनर धरातल

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local