Gwalior Unsafe children: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर की महिला व बेटियां सुरक्षित नहीं है। आए दिन नाबालिक बच्चों व महिलाओं के साथ दुष्कर्म की घटनाएं सामने आ रही हैं। ग्वालियर पुलिस इन महिला व बच्चों को सुरक्षा देने में असफल साबित हो रही है। जहां एक मासूम के मोबाइल पर अश्लील मैसेज भेजे गए तो वहीं दूसरी और एक महिला के साथ गैंग रेप हो गया। हालांकि दोंनो ही मामलों में पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

माधौगंज थाना प्रभारी वर्षा ने बताया कि माधौगंज क्षेत्र में रहने वाली एक 11 साल की बच्ची के मोबाइल पर मोबाइल नंबर 8959889748 से अश्लील मैसेज भेजा गया। शुरूआत में तो बच्ची ने मैसे डिलीट कर दिए । इसके बाद उसके पास फोन आना शुरू हो गए। युवक फोन पर उससे दोस्ती करने के लिए धमकाने लगा कि यदि उसने दोस्ती नहीं की तो वह उसका नंबर वायरल कर देगा और बदनाम कर देगा। बच्ची घवरा गई और घर में शांत रहने लगी। जब उसकी मां ने उससे कारण पूछा ताे उसने पूरी बात अपनी मां को बता दिया। इसके बाद पीडिता अपनी मां ने फोन पर मैसेज भेजने वाले को समझाने का प्रयास किया तो वह धमकाने लगा। इस पर पीडित की मां ने पुलिस थाना पहुंचकर शिकायत की। पुलिस ने पास्को एक्ट में आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे तत्काल हिरासत में लिया और सलाखों के पीछे पहुंचा दिया।

स्मैक पिलाने के बहाने बुलाया और किया सामूहिक दुष्‍कर्म

ग्वालियर एसपी अमित सांघी के पास एक महिला ने पत्र के माध्यम से शिकायत करते हुए बताया कि उसके साथ सामूहिक दुष्‍कर्म हुआ है। उसे सुरक्षा दी जाए ओर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। पुलिस कप्तान ने इसकी जिम्मेदारी पड़ाव थाना प्रभारी विवेक अष्ठाना को दी। विवेक अष्ठाना ने उक्त पीड़िता को थाने बुलाया और उसकी पूरी बात सुनी। पीड़िता ने बताया कि वह लक्ष्मण तैलया पर रहती है। उसके साथ संतोष उर्फ बाटा ने साइंबाबा मंदिर के पास अपने कमरे पर स्मैक पीने के लिए 16 सितंबर को बुलाया था। मैं वहां पर पहुंची तो देखा कि वहां पर संतोष का साथी राजेश उसका नौकर और मां थी। हम लोगों ने साथ में बैठकर स्मैक पी। इसके बाद जब मुझे नशा हुआ तो इन तीनों ने मिलकर मेरे साथ गैंग रेप कर दिया। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने संतोष और उसकी मां, राजेश व नौकर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। हालांकि यह महिला पहले चोरी के प्रकरण में दो बार पड़ाव थाने में पकड़ी जा चुकी है और इसके पति के खिलाफ भी अपराधिक प्रकरण दर्ज है। प्रशासन इसका घर भी तोड़ चुका है।

आरेापी पकड़ा स्मैक के साथ-

इधर क्राइम ब्रांच ने मुखबिर की सूचना पर संतोष उर्फ बाटा को स्मैक के साथ गिरफ्तार कर लिया। क्राइम ब्रांच का कहना है कि संतोष स्मैक तस्करी का काम भी करता है। आरोपी के खिलाफ स्मैक तस्करी में मामला दर्ज कर लिया गया है।

इनका कहना है

महिला की शिकायत पर चार लोगोंके खिलाफ मामलादर्ज कर लिया गया है। मुख्य आरोपी क्राइम ब्रांच ने स्मैक के साथ पकड़ा है।

विवेक अष्ठाना ,थाना प्रभारी पड़ाव

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local