भाजपा-कांग्रेस ने 40 फीसद युवाओं को दिया है मौका, दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के सर्वाधिक

ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। नगर सरकार में इस बार तस्वीर बदली बदली सी नजर आएगी। दोनों प्रमुख राजनीतिक दल भाजपा और कांग्रेस ने युवा भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली नई पीढ़ी को चुनावी मैदान में उतारा है। नगरीय निकाय चुनाव में ताल ठोक रहे युवा उम्मीदवारों की संख्या 40 प्रतिशत के आसपास है। इनमें सर्वाधिक संख्या दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस उम्मीदवारों की है। भाजपा ने भी इसी अनुपात में युवाओं को मौका दिया है। कांग्रेस से सबसे कम उम्र के प्रत्याशी वार्ड क्रमांक 41 के कांग्रेस के उम्मीदवार पीयूष गुप्ता हैं तो भाजपा ने ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 36 से युवा उम्मीदवार भावना कन्नोजिया को टिकट दिया है। भावना महज 22 साल की हैं। पीयूष ने यूके (यूनाइटेड किंगडम) से एमबीए किया है। वहीं भावना स्टेनोग्राफर की तैयारी कर रही हैं। इन युवाअों का मत है कि धरातल पर काम करने से ही वार्डो की तस्वीर बदलेगी और तभी शहर में असली विकास नजर आएगा। क्षेत्र के लोगों को सिर्फ वादे नहीं, मूलभूत सुविधाओं की दरकार है।

भाजपा: युवा हाथों में कमान सौंपने की तैयारी

भिाजपा जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी का कहना है दल की रणनीति नई सोच और उत्साह-उमंग से लबरेज महिला-पुरुषों को राजनीति में आगे लाना है। भाजपा ऐसा पहला संगठन है, जिसने में राजनीति में सेवानिवृति की उम्र सीमा तय करने का प्रयास किया है। हमने संगठन से लेकर नगर सरकार में युवाअों को भागीदारी देने का प्रयास किया है। नगरीय निकाय चुनाव में 66 वार्डो में से 30 वार्डो में युुवा प्रत्याशी मैदान में उतारे हैं। चुनाव से पहले युवाअों को राजनीति से जोड़ने के लिए भाजपा युवा मोर्चा ने एक महीने अभियान चलाया था। इसमें मंडल से लेकर प्रदेश स्तर पर प्रतियोगिताएं होंगी।

कांग्रेस: शहर की तस्वीर बदलने युवाओं को लाए हैं आगे

कांग्रेस के मीडिया प्रभारी राजकुमार शर्मा ने बताया कि निकाय चुनाव में इस बार कांग्रेस ने 66 में से वार्डो में से 25 वार्डो में युवाअों को टिकट दिए हैं। कांग्रेस की रणनीति युवाओं को राजनीति में आगे लाने की है। इसी के तहत इस बार निकाय चुनाव में 40 प्रतिशत टिकट युवाओं को दिए हैं। समय आ गया है कि युवा आगे आकर राजनीति की कमान संभाले और वरिष्ठजन मार्गदर्शन करें।

डायरी-कलम साथ लेकर चलती हैं भावना

भाजपा उम्मीदवार भावना ने 12वीं उत्तीर्ण करने के बाद स्टेनो की तैयारी कर रहीं हैं। अब पार्षदी का टिकट मिलने पर जीत के लिए जनसमर्थन जुटाने घर-घर दस्तक दे रही हैं। भावना का कहना है जनसंपर्क के दौरान वह डायरी-कलम साथ लेकर चलती हैं, जिसमें जनता द्वारा बताई गई समस्याअों को लिखती हूं। समय आने पर इन समस्याअों का निदान कराऊंगी।

यूके से एमबीए कर चुके हैं पीयूष

कांग्रेस ने युवा प्रत्याशी पीयूष ने यूके से एमबीए किया है। उनका कहना है पार्षद का मूल कार्य अपने क्षेत्र के नागरिकों को मूलभूत सुविधाएं व योजनाअों का लाभ उपलब्ध कराना है। शिक्षित समाज ही तरक्की के पथ पर दौड़ सकता है, इसलिए पानी, बिजली व सड़क के साथ लोगों को शिक्षित करने हर संभव मदद करूंगा। हमारे वार्ड, शहर व देश में प्रतिभाओं की कमी नहीं है।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close