Gwalior Vaccination News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। कोरोना के आंकड़े भले ही बढ़ रहे हों पर टीकाकरण भी अपनी रफ्तार में है। बुधवार को 12533 लोगों ने कोरोना वैक्सीन लगवाई। केंद्रों पर लंबी लंबी कतारें , इंतजार के बाद भी उत्साह साफ कह रहा था कि अब लोगों में संजीवनी को लेकर जागस्र्कता आ रही है। गुस्र्वार को 173 केंद्राें पर टीकाकरण शुरू हुआ। वहीं 104 साल के उदय प्रताप सिंह बुधवार को दीनदयाल नगर डिस्पेंसरी पर टीकाकरण कराने पहुंचे। जिन्हें देख दूसरे लोग चकित भी दिखे। टीकाकरण कराते ही उदय प्रताप ने कहा भी कि यह कोरोना की संजीवनी सभी के लिए बहुत जरूरी है।

उत्साह में बाधा, अव्यवस्थाएं: परेशान हुए लोगः कोरोना टीकाकरण में जहां लोगों में उत्साह पैदा हो रहा है वहीं सरकारी व्यवस्थाएं लोगों में निराशा भी पैदा कर रही हैं। बुधवार को जिला अस्पताल में बुजुर्गों को बैठने , पीने का पानी व गर्मी से बचने का साधन न उपलब्ध होने पर नाराजगी जताई तो वहीं स्टाफ की मनमानी को लेकर हंगामा भी हुआ। असल में अस्पताल में टीकाकरण के लिए बुजुर्ग लंबी लाइन में खड़े थे, तभी अस्पताल का स्टाफ अपने रिश्तेदारों काे बीच में टीका लगाने लगा। इसको लेकर बुजुर्गों ने जमकर हंगामा किया। जब सिविल सर्जन व आरएमओ पहुंचे तब कहीं जाकर मामला शांत हुआ। इसी तरह की स्थिति थाटीपुर केंद्र पर भी रही।

12533 लोगों ने ली संजीवनीः सरकारी व निजी अस्पतालों को मिलाकर कुल 141 केंद्र बनाए गए थे। हर दिन की तरह कई निजी अस्पतालों में टीका लगवाने के लिए एक भी व्यक्ति नहीं पहुंचा। जबकि जिला अस्पताल, थाटीपुर, हजीरा, जयारोग्य अस्पताल में भीड़ जमा रही। वहीं हर मोहल्ले में खुले स्वास्थ्य केंद्रों पर भी टीकाकरण चल रहा है पर वहां पर कम लोग ही पहुंच रहे हैं। जबकि लोगों को चाहिए कि वह घर के पास स्थित अस्पताल में टीका लगवाएं। बुधवार को 11833 लोगों ने कोरोना वैक्सीन का पहला टीका लगवाया, जबकि 700 लोगों ने दूसरा टीका लगवाया।

घर पर करें पंजीयन, अस्पताल में 10 मिनट में लगवाएं टीकाः आरोग्य सेतु एप पर वैक्सीनेशन का आप्शन दिया गया है। इसमें वैक्सीनेशन कराने के लिए लोग घर बैठे ही पंजीयन करा सकते हैं। पंजीयन होने के बाद मोबाइल पर ही आपको वैक्सीनेशन की तिथि और समय बता दिया जाएगा। तय समय पर टीकाकारण केंद्र पर पहुंचने पर आसानी से वैक्सीनेशन हो जाएगा। आपको भीड़ में लंबी लाइन लगाकर भी नहीं खड़ा होना होगा और टीकाकरण दस मिनट में हो जाएगा।

वर्जन-

पहली बार 173 केंद्र बनाए गए हैं। यह केंद्र गांव गांव व शहर के हर स्वास्थ्य केंद्र पर बनाया गया है। जिससे लेाग परेशान न हों और घर के नजदीक केंद्र पर टीका लगवाएं। टीकाकरण जरूरी है, पर उससे भी जरूरी कोरोना से बचना इसलिए भीड़ में शामिल न हों।

डा.रामकुमार गुप्ता, नोडल अधिकारी , टीकाकरण

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags