Gwalior Water Problem News: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। दो दिन से लगातार हो रही बारिश और पेहसारी से छोड़े जा रहे पानी के कारण तिघरा बांध का जलस्तर बढ़कर 733.50 फीट पहुंच गया है। तिघरा के अंदर 3160 एमसीएफटी पानी आ गया है। इससे ग्वालियर में जलसंकट खत्म होने के संकेत मिलने लगे हैं। यह पानी ग्वालियर की करीब 330 दिन तक प्यास बुझा सकता है, जबकि एक दिन छोड़कर पानी की सप्लाई की जाती है तो यह पानी करीब सालभर तक शहर की प्यास बुझा सकता है। हालांकि अभी भी तिघरा को भरने के लिए 1100 एमसीएफटी पानी की दरकार है, जो संभवत: इसी मानसून सीजन में आ जाएगा। वहीं तिघरा से शहर को प्रतिदिन 10 एमसीएफटी पानी की सप्लाई की जा रही है। तिघरा 739 फीट तक भरा जाता है, जिससे इसके अंदर 4200 एमसीएफटी पानी आ जाता है, जबकि पहले तिघरा को 740 फीट तक भरते थे, जिससे इसमें 4400 एमसीएफटी पानी आता था।

तिघरा को भरने के लिए अभी 5.5 फीट पानी और चाहिए, अगर तिघरा बांध पूरी तरह से भर जाता है तो करीब 420 दिन के लिए पानी इसमें स्टोर हो जाता है। इसके बाद अगर एक साल ठीक से बारिश भी न हो तो पानी की किल्लत अत्याधिक महसूस नहीं होती है, लेकिन इस साल घाटीगांव क्षेत्र में कम बारिश के कारण तिघरा बांध अभी 5.5 फीट खाली है।

यह है बांधों की स्थिति

बांध इतना भरा क्षमता कितना प्रतिशत भरा

अपर ककैटो 1844 एमसीएफटी 1844 एमसीएफटी 100

ककैटो 2700 एमसीएफटी 2793 एमसीएफटी 100

पेहसारी 1500 एमसीएफटी 1562 एमसीएफटी 100

तिघरा 3150 एमसीएफटी 4200 एमसीएफटी 70

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local