Gwalior Water Supply News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। अमृत योजना शहरवासियों के लिए परेशानी का सबब बनती जा रही है। योजना के तहत तीनों विधानसभा क्षेत्रों ने ठेकेदार से 44 हजार नल कनेक्शन कराना बताया है। इसका भुगतान भी प्रति कनेक्शन 3000 रुपये के हिसाब से नगर निगम ने ठेकेदार को किया, लेकिन इसके बाद भी अभी तक 44000 से अधिक उपभोक्ताओं के घरों में प्रेशर से पानी नहीं पहुंचा है, जबकि उनके बिल चालू हो चुके हैं। इसके साथ ही ठेकेदार ने लोगों से भी कनेक्शन के नाम पर 500 से लेकर 1500 रुपये तक की अवैध ढंग से लिए। इसका खुलासा हैदरगंज में कलेक्टर के आदेश पर गई निगम की टीम के सामने स्थानीय लोगों ने किया था।

अमृत योजना के तहत शहर में 42 पानी की टंकियों का निर्माण कार्य किया गया है। इसके साथ तय किया गया कि शहरवासियों के घरों तक नलों का कनेक्शन भी दिया जाए। इस काम को पूरा करने के लिए ठेकेदार को 13 करोड़ 20 लाख रुपये का भुगतान भी हो चुका है। निगम ने कनेक्शन वाले परिवारों के लिए बिल जारी कर दिए हैं। नवीन कनेक्शन को पूरी तरह से नि:शुल्क रखा गया, लेकिन जिन लोगों को योजना की जानकारी नहीं थी उन्होंने भी ठेकेदार को सुविधा पाने के लिए भुगतान कर दिया। मामला हैदरगंज में कलेक्टर की जनसुनवाई में सभी के सामने आया। यहां एक महिला पानी की समस्या को लेकर पहुंची। कलेक्टर के आदेश पर निगम की टीम ने उसी शाम फ्री कनेक्शन भी दिया।

12 मीटर की ऊंचाई तक प्रेशर से पहुंचना है पानीः अमृत योजना के तहत दिए गए नल कनेक्शनों में अनुबंध की शर्ताे के अनुसार 12 मीटर की ऊंचाई तक पानी का प्रेशर पहुंचाना है। जिससे लोगों को बिना टिल्लूपंप लगाए पानी मिल सके, लेकिन अभी भी गौसपुरा, लधेड़ी मंगलेश्वर, किलागेट, हजीरा, सहित वार्ड 9, 10, 12, 11 आदि में प्रेशर से पानी नहीं पहुंच रहा है। रहवासियों को मजबूर होकर टिल्लू पंप चलाना पड़ रहा है।

वर्जन-

पानी का प्रेशर नहीं आ रहा है, कनेक्शन हो चुके है।, आज भी टिल्लूपंप का ही उपयोग करना पड़ रहा है।

राजू, गोसपुरा नंबर एक हजीरा

वर्जन-

अमृत योजना के तहत एक माह पहले ही पानी की लाइन डाली गई है, पानी आ रहा है, लेकिन प्रेशर से नहीं आ रहा है। टिल्लूपंप लगाकर ही पानी भरना पड़ रहा है। नलों के बिल पहले की तरह ही आ रहे हैं।

प्रवीण, लधेड़ी मंगलेश्वर महादेव मंदिर किलागेट

वर्जन-

वार्ड क्रमांक 10 में कुछ गलियों को छोड दिया गया है। जिन घरों में कनेक्शन दिए गए हैं, वहां प्रेशर से पानी नहीं आ रहा है। रहवासियों को मजबूर होकर टिल्लू पंप का सहारा लेना पड़ रहा है।

जयसिंह सोलंकी, पूर्व पार्षद वार्ड क्रमांक 10

वर्जन-

अमृत योजना की शिकायतें आ रही हैं, इस मामले में गुणवत्ता की जांच कराई जाएगी। साथ ही प्रेशर से पानी क्यों नहीं आ रहा है यह भी दिखवाया जाएगा।

गाेविंद कटारे, प्रमुख अभियंता, नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग भोपाल

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags