Gwalior Weather News: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। अरब सागर व बंगाल की खाड़ी से आ रही नमी की वजह से शनिवार को सुबह काली घटाएं छा रही। शहर में कहीं तेज, तो कहीं बूंदाबांदी हो सकी। सुबह 10 बजे के बाद समान हो गया। सूरज की तल्खी बढ़ गई, जिससे उमस भरी गर्मी का सामना करना पड़ा। मौसम विभाग के अनुसार 26 से 28 सितंबर के बीच हल्की बारिश व बूंदाबांदी का दौर चल सकता है। बुंदेलखंड में बना चक्रवातीय घेरा अरब सागर व बंगाल की खाड़ी से नमी इकट्ठा कर रहा है।

दोपहर में धूप निकलने पर अधिकतम तापमान 32.8 डिसे पर पहुंच गया। इससे दोपहर में उमस भरी गर्मी से तरबतर रहे। गर्मी के चलते बादल भी छाए, लेकिन काली घटाएं तरसा कर चली गई। सिर्फ सुबह ही बूंदाबांदी हो सकी। न्यूनतम तापमान सामान्य से 2.3 डिसे अधिक रहा। इससे रात में उमस रही। अधिकतम तापमान सामान्य से 1.8 डिसे कम रहा। शहर में औसत बारिश 683.5 मिमी तक पहुंच गई है।

ऐसा रहेगा मौसम

- गुजरात के सौराष्ट्र में बना चक्रवातीय घेरा अरब सागर में चला गया है। यह कम दबाव के क्षेत्र के रूप में बदल गया है। अरब सागर से भी हवा को पर्याप्त नमी मिल रही है। बंगाल की खाड़ी से हवा को नमी मिल रही है।

- बुंदलेखंड के सागर के पास चक्रवातीय घेरा बना हुआ है। यह चक्रवातीय घेरा अरब सागर व बंगाल की खाड़ी से आने वाली नमी को इकट्ठा कर रहा है। इसकी वजह से बारिश जारी रहेगी।

-श्योपुर व मुरैना बारिश की कम संभावना है, लेकिन ग्वालियर शहर में 26 से 28 सितंबर के बीच हल्की बारिश जारी रह सकती है। भिंड व दतिया में तेज बारिश के आसार रहेंगे।

तूफान का अंचल के ऊपर असर नहीं

बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र चक्रवातीय तूफान में बदल रहा है। यह तूफान उड़ीसा-आंध्र प्रदेश तट के बीच टकराएगा। यह छत्तीसगढ़ होते हुए महाराष्ट्र की ओर जाएगा। ग्वालियर चंबल संभाग इस तूफान से काफी दूर है। इस कारण अंचल पर कोई असर नहीं आएगा। इस तूफान के गुजर जाने के बाद नया कम दबाव का क्षेत्र 29 सितंबर को विकसित हो रहा है। इस सिस्टम की वजह से अक्टूबर के पहले हफ्ते में अंचल में गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ने का दौर जारी रहेगा।

अधिकतम तापमान-32.8 डिसे

न्यूनतम तापमान-25.4 डिसे

औसत बारिश 683.5 मिमी

कुल औसत बारिश 725.6 मिमी

- औसत से 42 मिमी कम

- मानसून सीजन 30 सितंबर तक, मानसून सक्रिय रहने के आसार 10 अक्टूबर तक।

इनका कहना है

-बंगाल की खाड़ी व अरब सागर से नमी आ रही है। इस कारण ग्वालियर में अगले तीन दिनों तक बारिश के आसार हैं। 29 सितंबर को बनने वाले कम दबाव के क्षेत्र के पहले सप्ताह में बारिश की संभावना रहेगी। गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं।

वेदप्रकाश सिंह, रडार प्रभारी मौसम केंद्र भोपाल

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local