ग्वालियर। सोमवार को भी मौसम का मिजाज ठंडा रहा। सुबह तेज धूप निकलने की वजह से दोपहर में बादल छा गए। 20 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से हवा चली और शहर के आसपास बारिश होने से मौसम में ठंडक आ गई। इससे मौसम सुहाना रहा। मौसम में आई ठंडक से आम आदमी तो राहत का अहसास कर ही रहा है, बिजली कंपनी को सबसे ज्यादा राहत मिली है। बिजली खपत 60 लाख यूनिट से घटकर 54 लाख पर आ गई। इससे फॉल्ट व ट्रिपिंग में गिरावट आ गई है। मौसम विभाग के अनुसार 18 जून को सुबह धूप निकलेगी और दोपहर बाद मौसम में बदलाव आएगा। आंधी व बारिश आने की भी संभावना रहेगी।

11 जून तक हवा राजस्थान की ओर से आ रही थी। इससे शहर भीषण गर्मी से झुलस रहा था। अब हवा ने अपनी दिशा बदल ली है। राजस्थान की वजाए हवा मुंबई व गुजरात की ओर से आने लगी है। इस ओर से आने वाली हवा समुद्र से नमी लाने लगी है। इस नमी की वजह से तापमान में गिरावट आई है। जैसे ही धूप तेज होती है, वैसे ही बादल छाएंगे और बारिश होगी। आंधी भी आएगी, लेकिन तापमान ज्यादा ऊपर नहीं जाएगा। साथ ही यह हवाएं मानसून को भी आगे बढ़ाने मदद करेंगी। बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम विकसित हो रहा है। इससे मानसून आगे बढ़ेगा। मानसून के आगे बढ़ने पर प्री मानसून हलचल तेज होंगी। आंधी के साथ बारिश भी होगी। इससे औसत बारिश में भी इजाफा होगा।

उमस से मिली राहत

आसपास हुई बारिश की वजह से उमस भरी गर्मी से राहत मिल गई। कूलर ठंडी हवा फेंकने लगे। इससे बिजली की खपत में भी गिरावट आई। खपत कम होने पर ट्रिपिंग व फॉल्ट कम हो गए।

- तापमान कम रहने व गत दिवस हुई बारिश की वजह से बिजली का नेटवर्क भी ठंडा हो गया। पावर ट्रांसफार्मर का तापमान भी नीचे आ गया है। जो इंसुलेटर गर्म होकर टूट रहे थे, उनका टूटना बंद हो गया। वितरण ट्रांसफार्मर फेलुअर भी हुआ कम।

न्यूनतम तापमान में आई 5.3 डिग्री की गिरावट

गत दिवस हुई बारिश का असर सोमवार को देखने को मिला। न्यूनतम तापमान में 5.3 डिग्री की गिरावट दर्ज की। इससे सुबह मौसम सुहाना रहा। वहीं अधिकतम तापमान स्थिर रहा।

- रात में भी मौसम में ठंडक रही। इससे रात में भी उमस से राहत रही।

अधिकतम तापमान-39.4 डिग्री

न्यूनतम तापमान-26.7 डिग्री

आगे क्या

- मौसम केन्द्र प्रभारी उमाशंकर चौकसे के अनुसार सुबह धूप निकलेगी। शाम को आंधी बारिश का मौसम हो जाएगा। प्री मानसून शुरू हो गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network