• प्रदेश में सबसे ज्यादा ठंडा रहा शहर, सीजन में अभी तक का सबसे कम तापमान

Gwalior Weather Update: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जम्मू कश्मीर से आ रही बर्फीली हवाओं ने शहर में ठंड बढ़ा दी है। न्यूनतम तापमान 3.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ। शीत लहर ने भी थर्ड डिग्री टार्चर दिया। प्रदेश में ग्वालियर सबसे ठंडा रहा है। सुबह 9 बजे तक ठंड की चुभन अधिक रही। दोपहर में धूप होने पर ठंड से हलकी राहत मिल सकी, लेकिन शाम से फिर सर्द हवा शुरू हो गई। सीजन का सबसे कम तापमान दर्ज हुआ है। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटे में शीत लहर के आसार हैं।

जम्मू कश्मीर में पश्चिमी विक्षोभ खत्म हो गया है। इससे हवा का रुख उत्तर से पश्चिमी हो गया है। यह हवा अपने साथ बर्फीली ठंडक ला रही है। बर्फीली हवा से गत दिवस न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस पर आ गया था। साथ में शीत लहर भी जारी रही। दूसरे दिन भी शीत लहर की वजह से तापमान में गिरावट दर्ज हुई। सामान्य से 3.3 डिसे कम रहा। सामान्य से नीचे जाने की वजह से ठंड की चुभन अधिक रही। ठंड से राहत के लिए सुबह अलाव जलाने पड़े। दोपहर में तेज धूप निकलने से राहत मिल गई। दिन का तापमान सामान्य से 1.2 डिसे अधिक रहा। इस सीजन का सबसे कम तापमान दर्ज हुआ है।

बिजली की खपत भी बढ़ी

- न्यूनतम तापमान में गिरावट आने से बिजली की खपत भी बढ़ गई है। सूर्य अस्त के बाद लोगों ने गर्माहट के लिए हीटर जलाने शुरू कर दिए हैं। इस कारण शहर की बिजली खपत 35 लाख यूनिट से ऊपर पहुंच गई है। करीब छह से सात लाख यूनिट की खपत बढ़ी है।

- आसमान साफ होने से दिन में राहत है। इसलिए दिन में हीटर नहीं जलाने पड़ रहे हैं। रात में ही बिजली की खपत बढ़ रही है।

आगे ऐसा रहेगा मौसम

- न्यूनतम तापमान 3 से 5 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। हवा में नमी की मात्रा घट जाने से रात में ठंड की चुभन अधिक रहेगी। यदि रात में हवा चलतीहै तो तापमान 3 डिग्री तक आ सकता है।

- आसमान साफ रहने से दिन में तेज धूप निकलेगी, जिससे ठंड से राहत रहेगी।

कृषि विभाग ने जारी की एडवाइजरी

- न्यूनतम तामपान में आ रही गिरावट को देखते हुए कृषि विभाग ने एक एडवाइजरी जारी की है। रात में पड़ रही ठंड से पाले की स्थिति बन रही है। इससे फसलों को नुकसान हो सकता है। पाले बचाने के उपाय किसानों को बताए जा रहे हैं। यदि पाला पड़ रहा है तो खेतों की सिंचाई करना चाहिए। नमी से खेत में गर्माहट रहती है। रात 12 बजे से 2 बजे के बीच खेत की धुएं के लिए सूखा कचरा जलाना चाहिए। ताकि वातावरण में गर्माहट आ सके। एक हेक्टेयर में 20 से 25 किलो सल्फर डस्ट का छिड़काव करें। 3 ग्राम प्रति लीटर पानी में सल्फर का घोल बनाकर भी छिड़क सकते हैं। इससे फसलों को पाले से बचाया जा सकता है।

अधिकतम तापमान- 23.5 डिसे

न्यूनतम तापमान-3.5 डिसे

पारे की चाल

समय तापमान

5:30 05.4

8:30 04.8

11:30 18.8

14:30 22.4

17:30 18.6

इनका कहना है

न्यूनतम तापमान में अभी एक डिग्री गिरावट के आसार हैं। 2 डिग्री सेल्सियस तक तापमान पहुंच सकता है। 15 जनवरी तक शीत लहर चलने के आसार हैं। रात में ठंड से राहत के आसार नहीं है।

सीके उपाध्याय, मौसम केन्द्र प्रभारी थाटीपुर ग्वालियर

Posted By: anil.tomar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस