-शहर को गर्मी ने किया बेहाल, 30 तक झेलना होगी

ग्वालियर, (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बंगाल की खाड़ी से नमी आना बंद हो गई है। इस कारण आसमान साफ हो गया। इससे सूरज की तल्खी बढ़ गई। बुधवार को अधिकतम तापमान 35.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जाे सामान्य से 0.9 डिग्री सेल्सियस अधिक रहा। ग्वालियर प्रदेश में सबसे अधिक गर्म रहा। दिन में उमस भरी गर्मी ने बेहाल कर दिया। मौसम विभाग के अनुसार अभी कोई सिस्टम नहीं है, जिससे मौसम प्रभावित हो सके। 30 सितंबर तक इसी तरह की गर्मी झेलना होगी। अक्टूबर में मौसम बदलने के आसार रहेंगे।

बंगाल की खाड़ी से आए कम दबाव के क्षेत्र की वजह से पांच दिनों तक मौसम काफी सुहाना रहा था। दिन में ठंडक का अहसास रहा था। वर्षा अच्छी हुई, लेकिन इस सिस्टम का असर खत्म होने के बाद नमी आना बंद हो गई। इस कारण सुबह से आसमान साफ हो गया। सुबह से ही सूरज की तल्खी बढ़ गई थी। जैसे-जैसे दिन गुजरता गया, गर्मी में इजाफा हो गया। दोपहर में गर्मी ने बेहाल कर दिया। गर्मी से राहत के लिए एसी कूलर का सहारा लेना पड़ा। इस कारण बिजली की खपत भी बढ़ने लगी है।

ऐसा रहेगा मौसमः

-राजस्थान में मानसून वापसी के लिए अनुकूल परिस्थिति बन रही है। तीन से चार दिन में राजस्थान से मानसून की विदाई शुरू हो जाएगी। प्रति चक्रवात बनने पर उत्तर पश्चिमी हवा चलेगी, जिससे हवा में नमी घट जाएगी।

-अगले दो दिनों में हवा शांत रहेगी। बंगाल की खाड़ी व अरब सागर से नमी नहीं आएगी। जिससे आसमान साफ रहेगा। गर्मी अधिक होने पर शाम को हल्के बादल छाएंगे।

-दक्षिण भारत के पास चक्रवातीय घेरे बने हैं, लेकिन इनका असर ग्वालियर-चंबल संभाग पर नहीं रहेगा।

मानसून की विदाईः

-राजस्थान में प्रतिक्रवात बनने पर मानसून तेजी से विदा हाेगा। मानसून सीजन भी 30 सितंबर को खत्म हो जाएगा। हालांकि शहर में औसत वर्षा का कोटा पूरा हो गया है। इसलिए चिंता की स्थिति नहीं है, लेकिन अक्टूबर में एक सिस्टम बन रहा है। उससे वर्षा होती है तो रबी की फसल के लिए फायदेमंद रहेगी।

-घाटीगांव में कम वर्षा के कारण तिघरा खाली है।

तापमान की स्थितिः

-अधिकतम तापमान-35.9 डिसे

-न्यूनतम तापमान-22.6 डिसे

-कुल वर्षा-724.7 मिमी

पारे की चाल

समय तापमान

05:30 24.8

08:30 28.8

11:30 33.4

14:30 34.2

17:30 31.0

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close