ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। एक छायादार पेड़ चार लोगों को जीवन देता है। एक पेड़ चार लोगों के लिए आक्सीजन की उपलब्धता कराता है। एक व्यक्ति द्वारा अपनी पूरी जिंदगी में जितना प्रदूषण करता है उसे साफ करने के लिए 300 पेड़ की आवश्यकता होती है। भारत में 35 अरब पेड़ जो एक व्यक्ति पर 28पेड़ की उपलब्धता बताते हैं। लेकिन ग्वालियर की आबादी 24 लाख है और आबादी का 28 फीसद पेड़ की उपलब्धता के हिसाब से 6 लाख 72000 पेड़ हैं। चार व्यक्ति पर एक पेड़ की उपलब्धता हुई। जो काफी कम है और चिंता का विषय है।

पेड़ों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी -

- पेड़ धरती पर सबसे पुराने हैं, और ये कभी भी ज्यादा उम्र की वजह से नहीं मरते।हर साल 5 अऱब पेड़ लगाए जा रहे हैं, लेकिन हर साल 10 अऱब पेड़ काटे भी जा रहे हैं।एक पेड़ दिन में इतनी ऑक्सीजन देता है कि 4 आदमी जिंदा रह सकें।

- भारत में केवल 35 अऱब पेड़ बचे हैं।दुनिया में 1 इंसान के लिए 422 पेड़ बचे हैं. लेकिन भारत में 1 हिंदुस्तानी के लिए सिर्फ 28 पेड़ बचे हैं।पेड़ो की कतार धूल-मिट्टी के स्तर को 75% तक कम कर देती है और 50% तक शोर को कम करती है।एक पेड़ इतनी ठंड पैदा करता है जितनी 1 AC 10 कमरों में 20 घंटो तक चलने पर करता है. जो इलाका पेड़ो से घिरा होता है वह दूसरे इलाकों की तुलना में 9 डिग्री ठंडा रहता है।पेड़ अपनी 10% खुराक मिट्टी से और 90% खुराक हवा से लेते है।एक एकड़ में लगे हुए पेड़ 1 साल में इतनी CO2 सोख लेते है जितनी एक कार 41,000 km चलने पर छोड़ती है।

- पेड़ की जड़े बहुत नीचे तक जा सकती हैं. दक्षिण अफ्रिका में एक अंजीर के पेड़ की जड़े 400 फीट नीचे तक पाई गई थी।

- किसी एक पेड़ का नाम लेना मुश्किल है लकिन तुलसी, पीपल, नीम और बरगद दूसरों के मुकाबले ज्यादा ऑक्सीजन पैदा करते हैं।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local