वरुण शर्मा, ग्वालियर नईदुनिया। ग्वालियर जिले में ओलावृष्टि से प्रभावित गांवों के किसानों को जल्द मुआवजा मिलने की उम्मीद है। क्याेंकि प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट ने अफसरों को साफ निर्देश दिए हैं कि मुआवजे की कार्रवाई जल्द की जाए। प्रभारी मंत्री ने सभी संबंधित एसडीएम को निर्देश दिए हैं कि सर्वे सूची ग्राम सभा की बैठक में पढ़कर सुनाई जाए और प्रभावित किसानों की पूरी संतुष्टि के बाद ही सर्वे सूची को अंतिम रूप दिया जाए। उन्होंने कहा समाधान कागज पर नहीं जमीन पर होना चाहिए।

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि सर्वेक्षण कार्य पूरा हो चुका है। सर्वेक्षण को पारदर्शिता के साथ अंजाम देने के लिए जिले के ओला प्रभावित सभी गांवों में कम से कम 100 लोगों की मौजूदगी में ग्राम सभा आयोजित कर सर्वे सूची का सत्यापन कराया जा रहा है। फसल सर्वेक्षण और सूची के सत्यापन कार्य की वीडियाेग्राफी कराने के निर्देश भी दिए गए हैं। जिले में ओलावृष्टि से 57 गांवों के 14 हजार 294 किसानों की लगभग 10 हजार 530 हेक्टेयर रकबे की फसल प्रभावित हुई है। प्रभावित किसानों को लगभग 24 करोड़ रूपये की राहत राशि वितरित की जाएगी। सर्वेक्षण का काम पूर्ण करने के साथ ही राहत वितरित करने के लिए बिल लगाए जा रहे हैं। जल्द ही सिंगल क्लिक के

जरिए सभी प्रभावित किसानों के खातों में राहत राशि पहुंचाई जाएगी। कलेक्टर ने कहा कि पटवारियों की टीम को लगातार मैदान में रहकर मुआवजे से जुड़ी शिकायत या आवेदनों को लेने के लिए कहा गया है। जल्द ही सभी किसानों को मुआवजा दे दिया जाएगा। इसके लिए वरिष्ठ अफसरों को भी निगरानी पर लगाया गया है।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local