ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। थाटीपुर इलाके में पुलिस ने अवैध शराब के अड्डे पर छापा मारा, यहां से करीब पांच लाख रुपये की अवैध शराब बरामद हुई। यह अवैध शराब पंजाब के अमृतसर से मंगवाई गई थी। अवैध शराब का अड्डा हास्टल की आड़ में चल रहा था, जिसे सरपंच का चुनाव लड़ रही महिला का बेटा चला रहा था। यह शराब पंचायत चुनाव में ही खपाने के लिए मंगाई गई थी, इसके अलावा वह अवैध शराब बेचता भी है। महिंद्रा की थार गाड़ी से अवैध शराब की सप्लाई ग्रामीण क्षेत्रों में करता था। हिरासत में लेकर अवैध शराब के तस्कर से पूछताछ चल रही है, पुलिस को आशंका है कि पंजाब से और भी शराब मंगवाई गई है, जो इसने कहीं और छिपाई है। इस बारे में उससे पूछताछ चल रही है।

एसएसपी अमित सांघी ने बताया कि पंचायत चुनाव के चलते अवैध शराब को पकड़ने के लिए विशेष टीम लगाई गई है। गुरुवार को सीएसपी महाराजपुरा रवि भदौरिया को सूचना मिली कि थाटीपुर स्थित गायत्री विहार में हास्टल की आड़ में अवैध शराब का अड्डा बनाया गया है, जहां तलघर में भारी मात्रा में पंजाब की शराब रखी हुई है। इसके बाद एएसपी राजेश दंडौतिया, सीएसपी रवि भदौरिया, सीएसपी ऋषिकेष मीणा के नेतृत्व में दो टीम बनाई गईं। दोनों टीमों ने घेराबंदी कर छापा मारा। यहां अभिषेक हर्षाना के नाम पर बनी बिल्डिंग में छापा मारा गया।

वार्ड 1 के प्रत्याशी और उनके ससुर पर मतदाताओं काे साड़ियां बांटने का आराेप, वायरल हुआ वीडियाे-ये भी पढ़ें

यहां तलघर में करीब पांच लाख रुपये कीमत की 61 पेटी अवैध शराब मिली। अभिषेक हर्षाना ने यहां ब्वायज हास्टल बना रखा था, जिसकी आड़ में अवैध शराब का अड्डा चल रहा था। अभिषेक का भाई बड़ा शराब तस्कर है। वह अभी जेल में है, वहीं अभिषेक दुष्कर्म के आरोप में 11 माह जेल में रहकर आया है। जेल से छूटते ही उसने शराब तस्करी शुरू कर दी। उसकी मां सियाबेटी बानमोर स्थित पहाड़ी पंचायत से सरपंच का चुनाव लड़ रही हैं। उसने कुछ दिन पहले ही शराब की खेप मंगाई थी। पता लगा है कि वह थार गाड़ी से ही शराब सप्लाई करता था। उधर पनिहार में भी अवैध शराब पकड़ी गई है। पनिहार पुलिस ने तीन पेटी अवैध शराब पकड़ी है।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close