-लूट की चपेट में रहा शहर, दिन में जलन का हुआ अहसास

ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। राजस्थान से आ रही गर्म हवा के चलते दूसरे दिन भी सूरज के तेवर तल्ख रहे हैं। अधिकतम तापमान 46.1 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ, जाे सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस अधिक रहा है। दिन में आठ किमी प्रतिघंटा की गति से लू चली। इससे दिन में जलन का अहसास हुआ। सुबह 11:30 बजे से शाम 5:30 बजे के बीच शहर भट्टी जैसा तप रहा था, जिससे दोपहर में सड़कें सूनी हो गईं। मौसम विभाग के अनुसार 15 मई को भी गर्मी का आरेंज अलर्ट जारी किया गया है। तापमान 45 से 46 डिग्री सेल्सियस के बीच ही दर्ज होगा। 16 मई से तापमान में गिरावट आएगी और तेज हवाएं भी चल सकती हैं।

राजस्थान से तेज गति से गर्म हवा आ रही हैं। आसमान भी साफ था, जिससे सूरज की किरणें सीधे धरती पड़ रही हैं। इस कारण गत दिवस भी अधिकतम तापमान 46.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ था। इसका असर दूसरे दिन भी रहा। सूर्य उदय के साथ ही गर्मी ने अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए थे। सुबह 9 बजे गर्म हवा चलने लगी थी। जैसे-जैसे दिन गुजरा, तापमान आसमान में पहुंच गया। दोपहर में ऐसा लग रहा था कि सूरज जमीं पर आ गया है। हाथ पैरों में हवा लगने पर जलन का अहसास हो रहा था। सूर्य अस्त के बाद भी गर्म हवा का चलना जारी रहा। अधिकतम तापमान सामान्य से 4.5 डिसे अधिक होने की वजह से जलन भी अधिक रही। गत दिवस की तुलना में गर्मी का अहसास शनिवार को अधिक था।

कमजोर पश्चिमी विक्षोभ आया था, इसलिए प्रभाव नहीं डाल सका

-बंगाल की खाड़ी में आए असानी तूफान की वजह से हवा का रुख दक्षिण पूर्वी था। यह हवा पांच दिनों तक चली। जब इस हवा का चलना बंद हुआ तो पश्चिमी हवा (राजस्थान की गर्म हवा) मजबूत हो गई।

-जम्मू कश्मीर में एक पश्चिमी विक्षोभ आया था, लेकिन यह काफी कमजोर था। यह अपना असर कश्मीर पर ही दिखा सका। यह हवा में बदलाव नहीं कर सका।

-राजस्थान का रेगिस्तान 48 डिग्री सेल्सियस तक तप रहा है। पश्चिमी हवा यहां से गर्म हवा लेकर आ रही है। ग्वालियर-चंबल संभाग राजस्थान के नजदीक है, जिसके चलते दोनों संभाग ज्यादा प्रभावित हैं।

तापमान की स्थितिः

-अधिकतम तापमान- 46.1 डिसे

-न्यूनतम तापमान-26.7 डिसे

-हवा की गति 8 किमी प्रतिघंटा

पारे की चाल

समय तापमान

05:30 28.0

08:30 36.6

11:30 43.2

1430 45.6

1730 44.2

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local