- स्टेशन बजरिया से शुरू हुई स्वच्छ सर्वेक्षण की तैयारी, कई कोनों से महीनों बाद उठा कचरा

- 'नईदुनिया संवाद" का सार्थक आगाज, अब रोजाना विभिन्ना बाजारों में पहुंचेगा निगम का बड़ा अमला

ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। स्वच्छता के मामले में 'हमारा शहर इंदौर जैसा क्यों नहीं" विषय पर बुधवार को नईदुनिया संवाद कार्यक्रम बाल भवन में आयोजित किया गया था। इस संवाद के सार्थक होने का आगाज गुरुवार से ही शुरू हो गया है। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने संवाद में कहा था कि रेलवे स्टेशन शहर का आइना होता है। स्वच्छ सर्वेक्षण की तैयारी का शुरुआत गुरुवार से ही स्टेशन की जाए। मंत्री के निर्देशानुसार गुरुवार सुबह नगर निगम का अमला स्टेशन बजरिया पहुंच गया। यहां दुकानों पर डस्टबिन न होने पर लगभग सभी दुकानदारों के खिलाफ चालानी कार्रवाई की। साथ ही होटल, रेस्टोरेंट, चाय-नास्ते की दुकानों के 100, 500 और हजार रुपये तक के चालान काटे। दुकानदारों को सख्ती से समझाया गया, तो सभी दुकानदार तुरंत बाजार में दौड़े और सूखा व गीला कचरे के लिए दो-दो डस्टबिन खरीदकर अपनी दुकानों के सामने रखे। करीब 50 लोगों के 30 हजार रुपये से अधिक के चालन किए गए, यह कार्रवाई देर शाम तक जारी रही।

स्टेशन बजरिया स्थित नाली की सफाई गुरुवार तड़के कर दी गई। नाली से निकली गंदगी भी तत्काल उठा ली गई। रेलवे पार्किंग समेत अमेत अन्य कोनों में महीनों से पड़ा कचरा भी निगम के कचरा वाहनों में भरा गया। दोपहर को स्टेशन बजरिया का नजारा अन्य दिनों को मुकाबले काफी अलग दिखा। सभी दुकानों के सामने नीले व हरे रंग के दो-दो डस्टबिन दिखाई दे रहे थे। दोना, कागज, सिगरेट के फिल्टर, गुटखा आदि के पाउच तक दुकानदार डस्टबिन में डालने के लिए ग्राहकों से कह रहे थे।

फुआर से हुई साइन बोर्डों की सफाई

रेलवे स्टेशन क्षेत्र व वहां से गुजर रहे लोगों को सफाई दिखे, इसके लिए यहां लगे साइन बोर्ड भी मशीन के माध्यम से पानी के फुहारों से साफ किए गए। साथ ही जिन स्थानों पर पुरानी गंदगी व दाग थे, जिन्हें पूरी तरह साफ कराया गया। जहां पानी भरा हुआ था, उसे भी मशीन के माध्यम से सुखा व हटवा दिया गया।

रात्रिकालीन सफाई हुई शुरू, सड़कें साफ कर डलवाया चूना

स्टेशन बजरिया के व्यापारियों ने बताया केवल सुबह ही निगम द्वारा झाड़ू लगवाया जाता था। मगर गुरुवार को स्टेशन बजरिया पर रात्रिकालीन सफाई भी हुई। स्वीपिंग मशीन की सहायता से देर रात तक सड़कों को धोकर साफ किया गया। इतना ही नहीं, स्टेशन रोड मार्ग की चूने से मार्किंग भी की गई।

आज साफ होगा बस स्टैंड

शुक्रवार को बस स्टैंड पर विशेष सफाई अभियान चलाया जाएगा। इसके तहत बस स्टैंड स्थित ऐसी दुकानों के चालान काटे जाएंगे, जहां दो-दो डस्टबिन नहीं रखे होंगे एवं गंदगी होगी। निगम अधिकारियों का कहना है कि रोजोना एक-एक बाजार, बस स्टैंड, अस्पताल आदि को लक्ष्य बनाकर विशेष सफाई अभियान जारी रखा जाएगा, क्योंकि कई महीनों पुरानी गंदगी को साफ करने में अधिक मशक्कत करनी पड़ती है। स्वच्छ सर्वेक्षण के बाद भी इस व्यवस्था को सुचारू रखेंगे।

नहीं सुधरे तो 10 हजार का होगा चालान, बनेगा स्वच्छता का गाना

नगर निगम के अपर आयुक्त अतेंद्र सिंह गुर्जर का कहना है कि स्वच्छता के लिए जनता के सहयोग के बिना कुछ नहीं हो सकता। सफाई अभियान अधिक तेज कर दिया गया है। रेलवे स्टेशन स्थित लगभग सभी दुकानों के 500-1000 रुपये के चालन किए गए हैं। अगर व्यापारी नहीं समझेंगे तो 10 हजार रुपये तक के चालान भी किए जाएंगे। वहीं स्वच्छता अभियान के लिए नई धुन (जिंगल सांग) बनाने के लिए 4-5 लोगों को बोला है। धुन बनाने में अभी एक-दो दिन का समय लगेगा, जिसके बाद उसे रिकार्ड किया जाएगा।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local