IT raid in Gwalior: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ग्वालियर में सोमवार सुबह आयकर की बड़ी टीम ने चैंबर के पूर्व उपाध्यक्ष व सराफा कारोबारी पारस जैन व उनके कारोबारी पार्टनरों के 20 ठिकानों पर छापेमारी की। 250 अधिकारियों व कर्मचारियों की टीम अलग अलग शहरों से आई थी, जिनके साथ 150 पुलिस अधिकारी-कर्मचारी थे।

कार्रवाई की जद में सराफा कारोबारी पारस जैन सहित उनके अलग अलग कारोबार प्रापर्टी, केटरर्स व सरिया से जुडे पार्टनर आए। देर रात तक चली कार्रवाई में आयकर अधिकारियों का कहना है कि करीब छह करोड़ नकद और रियल एस्टेट से जुड़ी 40 करोड़ की टैक्स चोरी मिली है, इसके दस्तावेज भी मिल गए हैं।

20 से अधिक बैंक खाते, बैंक लाकर्स, सोना चांदी के आभूषण बरामद हुए हैं। एक मंत्री के नाम के भी प्रापर्टी के कुछ दस्तावेज टीम को मिले हैं। कार्रवाई मंगलवार को भी चलेगी। दिल्ली, राजस्थान और मध्य प्रदेश के अलग-अलग शहरों से अधिकारी इस टीम में शामिल रहे। आयकर चोरी की आशंका में जैन व उनके ग्रुप पर यह पूरी कार्रवाई हुई, जिसके लिए काफी पहले से आइटी विभाग होमवर्क कर रहा था।

इनके यहां हुई कार्रवाई - पारस जैन, विष्णु जैन, बाबूलाल जैन, सुदीप जैन और उनके परिवार के सदस्य के अलावा सुरेश खंडेलवाल, बंटी कैटरर्स, राजीव गुप्ता तथा उनके सहयोगियों के घर व प्रतिष्ठानों पर कार्रवाई की गई। इन सभी का सोना चांदी, प्रापर्टी, सरिया फैक्ट्री के अलावा हवाला का काम भी बताया गया। प्रापर्टी के जो कागजात इन कारोबारियों के घर से मिले हैं, वह कागजात ग्वालियर सहित आसपास के जिलों में खरीदी गई जमीन के हैं।

इनका कहना है

पारस जैन, उनके साथियों व करीबियों को मिलाकर कुल 20 ठिकानों पर छापेमार कार्रवाई की गई। इसमें बामौर की सरिया कंपनी पर भी कार्रवाई हुई। कार्रवाई अभी जारी है।

- नूह सिद्दिकी, डिप्टी कमिश्नर, आयकर विभाग।

Posted By: anil tomar

Mp
Mp