Khelo India Khelo Games: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर में खेलो इंडिया के माहौल के नाम पर शुभंकर ही शहर के विभिन्न स्कूल और कालेजों में दिख रहा है। इसके अलावा व्यवस्थाओं के नाम पर अभी तक ठोस तैयारी नहीं दिख रही है। खिलाड़ी कब आएंगे और कौन कौन से वाहन उनके लिए तय किए गए हैं, यह कुछ पता नहीं है। इवेंट कंपनी की व्यवस्थाओं को कौन देख रहा है, यह भी पता नहीं है। मंगलवार को इन अव्यवस्थाओं की पूरी हकीकत कलेक्टर काैशलेंद्र विक्रम सिंह तक पहुंची तो उन्हाेने अधिकारियों की खबर ली। कलेक्टर ने इवेंट कंपनी के प्रतिनिधियों से व्यवस्थाओं के बारे में सवाल किए तो वे भी जवाब नहीं दे पाए। इसपर कलेक्टर ने एडीएम सहित अधिकारियों से कहा कि इवेंट कंपनी क्या कर रही है कितनी तैयारी हो गइ है यह सब पता होना चाहिए।

यहां यह बता दें कि खेलो इंडिया के तहत ग्वालियर में दो इवेंट कंपनियां काम कर रही हैं। इन कंपनियों ने कितना काम किया और क्या क्या व्यवस्थाएं की हैं इसकी पूरी जानकारी अधिकारियों तक नहीं है। 31 जनवरी से 11 फरवरी तक खेलो इंडिया के तहत ग्वालियर में विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयाेजन किया जाएगा जिसमें देशभर के सात सौ से ज्यादा खिलाड़ी आएंगे और आफिशियल व अतिथि सहित कुल एक हजार लोग आएंगे। इसमें कंपनियों को ठहरने,खाने व परिवहन सहित ब्रांडिंग का इंतजाम करना है।

बड़ा आयोजन,घड़ी नजदीक,ब्रांडिंग शून्य

खेलो इंडिया के आयोजन का लेकर अभी तक की स्थिति यह है कि शहर में कोई ब्रांडिंग नहीं दिख रही है। एक भी बड़ा होर्डिंग या बैनर तक नहीं लगाया गया है जिससे यह पता चल सके कि आगामी 31 जनवरी से खेलो इंडिया के तहत शहर मे आयोजन होना है। सार्वजनिक स्थल हों या बड़े सरकारी संस्थान कहीं भी खेलो इंडिया को लेकर माहौल नहीं दिख रहा है। इस आयोजन को लेकर जबकि लाखों रूपए का बजट दिया गया है।

6 दिन शेष: अभी यह स्थिति

होटल: कंपनी की ओर से शहर के अलग अलग होटलों में 365 कमरे बुक करने का दावा किया गया है, इन सभी कमरों को चेक कर लिया गया है यह अभी तक पूरी रिपोर्ट नहीं आई है।

परिवहन: कंपनी के अनुसार 29 जनवरी से खिलाड़ी आना शुरू हो जाएंगे लेकिन कहां से और कौन से खिलाड़ी पहले आएंगे और इनके लिए कंपनी के प्रतिनिधियों को लगाया गया है या नहीं, व्यवस्थाएं स्वागत सब,इसकी डिटेल जानकारी नहीं दी गई है।

ब्रांडिंग: यह जिम्मा भी कंपनी के पास है, अभी तक रेडियो चैनलों पर ही खेलो इंडिया का संदेश देना बताया गया है लेकिन मैदानी स्तर पर माहौल नहीं दिखा।

कथन

खेलो इंडिया के तहत व्यवस्थाओं को बेहतर बनाने के लिए व्यवस्थाएं की जा रही हैं, इवेंट कंपनी के लोगों के काम काज को लेकर मानीटरिंग करने के निर्देश दिए गए हैं सोमवार को इसको लेकर समीक्षा की गई। ब्रांडिंग जल्द तेज की जाएगी।

कौशलेंद्र विक्रम सिंह, कलेक्टर

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close