ग्वालियर(नप्र)। कमलाराजा अस्पताल व जिला अस्पताल के बीच स्वजन बीमार बच्चों को भर्ती कराने के लिए चार घंटे तक भटकते रहे। चार घंटे बाद आखिरकार कमलाराजा के पीडियाट्रिक इंटेसिव केयर यूनिट में भर्ती कर दिए गए। चक गुंधारा निवासी धर्मेंद्र ने बताया कि उनकी पत्नी रचना ने 10 अप्रैल को जिला अस्पताल के प्रसूतिगृह में दो जुड़वां बच्चों को जन्म दिया था। दोनों को कमजोर होने के चलते पीआइसीयू में भर्ती किया गया था। जहां से 19 अप्रैल को पहला और 28 अप्रैल को दूसरा बच्चा कमलाराजा के पीआइसीयू के लिए रेफर कर दिया। जहां पर उनका इलाज चल रहा था। शनिवार को कमलाराजा से डाक्टरों ने यह कहते हुए जिला अस्पताल के पीआइसीयू के लिए रेफर कर दिया कि अब इनकी हालत ठीक है। बच्चों का वजन नहीं बढ़ रहा तो आप मुरार पीआइसीयू में भर्ती रखकर उनकी केयर करें। जिसके बाद धर्मेंद्र अपने दोनों बच्चों व पत्नी के साथ मुरार पीआइसीयू दोपहर तीन बजे पहुंचे, लेकिन वहां इन बच्चों को भर्ती करने से इनकार कर दिया। करीब चार घंटे तक पीआइसीयू के बाहर धर्मेंद्र बैठा रहा और डाक्टर से भर्ती करने के लिए मिन्नतें करता रहा। पर जब बच्चे किसी तरह से भी भर्ती नहीं हो सके तो आटो से वह वापस कमलाराजा पहुंचा और वहां पर फिर से भर्ती कर दिया गया। सिविल सर्जन डॉ. आरके शर्मा ने कहा कि मुझे इस बात की जानकारी नहीं है। मैंने अस्पताल में बोर्ड पर नंबर भी लिखवा रखा है यदि पीड़ि़त फोन पर सूचना देता तो उसकी समस्या का समाधान कर दिया जाता। पर भर्ती करने से क्यों मना किया, इसकी मैं जानकारी लेता हूं।

मिाशिमं की पूरक परीक्षाओं की तिथि घोषित

मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल ने कक्षा 10वीं व12 वीं की पूरक परीक्षाओं की तिथि घोषित कर दी हैं। कक्षा 10 वीं की पूरक परीक्षा 21 जून से 30 जून तक रहेगी, जबकि कक्षा 12 वीं की पूरक परीक्षा 20 जून से शुरू होकर 30 जून को समाप्त हो जाएगी। कक्षा 10वीं में 2414 छात्रों व 12 वीं में 2412 छात्रों की सप्लीमेंट्री आई है। शहर में संचालित हो रहे श्रमोदय आवासीय विद्यालय के सत्र 2022 की प्रवेश परीक्षा शुरू हो गई हैं, श्रमोदय आवासीय विद्यालय में कक्षा 6, 7, 8 व 9 वीं में छात्रों को प्रवेश दिया जाएगा। विद्यालय में छात्रों को मैरिट के आधार पर ही प्रवेश मिलेगा।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close