- 10 दिन से लगातार क्षेत्रवासी नगर निगम को कर रहे हैं फोन नहीं हो रही स्ट्रीट लाइट ठीक

Naidunia Abhiyan: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर के मुक्तिधामों की हालत बेहद खराब है। शहर के सबसे सुंदर मुक्तिधामों में माने जाने वाले मुरार मुक्तिधाम तक पहुंचने का मार्ग खस्ताहाल है। साथ ही कई दिनों से स्ट्रीट लाइन खराब होने के कारण वहां अंधेरा छाया हुआ है। क्षेत्रवासी सहित मुरार मुक्तिधाम की देखभाल करने वाली समिति व पूर्व पार्षद कई बार नगर निगम में शिकायत कर चुके है, इसके बाद भी 15 दिनों से बंद स्ट्रीट लाइट को बदलने या ठीक करने की जहमत तक नहीं उठाई गई। इसके कारण लोगों को टॉर्च की रोशनी में अंतिम संस्कार करना पड़ रहे हैं।

मुरार क्षेत्र के सबसे बड़े मुक्तिधाम के पहुंच मार्ग पर अंधेरा पसरा हुआ है। साथ ही करीब 15 दिनों से मुक्तिधाम में स्ट्रीट लाइटें बंद हैं, जिसके कारण लोगों को टॉर्च की रोशनी में अंतिम संस्कार करना पड़ रहा है। मुक्तिधाम की लाइटों को ठीक करने के लिए कई बार पूर्व पार्षद चतुर्भुज धनोलिया, विधायक सतीश सिकरवार एवं स्थानीय लोगों ने नगर निगम के विद्युत विभाग के नोडल अधिकारी देवीसिंह राठौर को फोन पर सूचना दी, लेकिन इसके बाद भी अभी तक स्ट्रीट लाइटें ठीक नहीं हो सकी हैं।

रात में निकलते हैं सांप और बिच्छु

रात में मुक्तिधाम के अंदर सांप और बिच्छु निकल आते हैं। इसके कारण वहां आने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है, क्योंकि अंधेरे में इन निशाचर जीवों पर पैर पड़ जाने पर यह काट भी लेते हैं।

वर्जन

मुक्तिधाम की हालत बेहद खराब है, सड़क पर पूरी तरह से अंधेरा पसरा रहता है। इस मामले को लेकर कई बार मैंने विद्युत विभाग के कार्यपालन यंत्री देवीसिंह राठौर को फोन कर सूचना दी है, लेकिन इसके बाद भी वह स्ट्रीट लाइटें ठीक नहीं कर रहे हैं।

चतुर्भुज धनोलिया, पूर्व पार्षद

मुक्तिधाम में रात के समय जाने में डर लगता है, क्योंकि वहां पर निशाचर जीव घूमते रहते हैं, जो कभी भी लोगों को डंक मार सकते हैं।

अभिषेक जादौन एडवोकेट, स्थानीय निवासी

लाइट को ठीक करने कई बार निगम अधिकारियों से आग्रह किया, लेकिन इसके बाद भी वह हर बात को अनसुना कर देते हैं।

मनीष जौहरी, स्थानीय निवासी

पिछले दो माह से हम लगातार नगर निगम से शिकायत कर रहे हैं। यहां रात में होने वाली अंत्येष्टि मोबाइल की टॉर्च या गाड़ियों की हेडलाइट्स में की जा रही हैं।

पं. हरिशकर शर्मा, अध्यक्ष, श्मशन जीर्णोधार मुरार

वर्जन

माह में कम से कम एक बार मुक्तिधाम जाना ही होता है। यहां की हालत बेहद खराब है, अंधेरा होने के कारण लोग चल भी नहीं पाते हैं। वहीं बारिश का मौसम होने के कारण सड़क पर जगह-जगह गड्ढे हो गए हैं। जिनमें पानी भर जाता है। ऐसे में लोग कैसे जाएं यह देखना निगम का कार्य है।

गजेंद्र सिंह कुशवाह, अध्यक्ष, पीतांबरा स्टेट इंद्रमणी नगर समिति

इस समय सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों के कारण परेशान है, सबसे अधिक समय इन्हें ही ठीक कराने में जा रहा है। मैं रविवार को विद्युत विभाग का स्टाफ भेजकर इसे दिखवा लेता हूं, संभव हो सका तो कल ही चालू करवा दूंगा।

देवी सिंह राठौर, नोडल अधिकारी विद्युत विभाग नगर निगम

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local