- शैलू ने अपने साथियों के साथ 6 जुलाई को कैश वैन में लूट की वारदात कबूली

- साथियों के नाम बताए, एक सिक्युरिटी सर्विस से जुड़ा साथी भी

-जिनके नाम बताए उनके फुटेज से हुलिया भी मिल रहे

ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि

आखिरकार हाइवे पर एक महीने पहले कलेक्शन वैन में गनमैन की हत्या कर 8.28 लाख रुपए लूट के मामले में पुलिस को सफलता मिल ही गई। गिरगांव से पकड़ा शॉर्प शूटर शैलू गुर्जर ने कैश वैन में हत्या कर लूट की बात कबूली है। उससे पुलिस ने अभी लगभग 45 हजार रुपए बरामद किए हैं। उसने कुछ साथियों के नाम भी बताए। जिनमें एक किसी सिक्युरिटी सर्विस से जुड़े सदस्य का भी नाम बताया है। पुलिस अब उसके दावे की सच्चाई का पता लगा रही है। पुलिस को एक संदेह भी है कहीं यह पुलिस को वैसे ही उलझा तो नहीं रहा है।

6 जुलाई दोपहर 1 बजे शिवपुरी लिंक रोड पर इंस्टाकार्ट के दफ्तर के बाहर बाइक सवार तीन बदमाशों ने सीएमएस की कैश कलेक्शन वैन के गनमैन रमेश सिंह तोमर की हत्या कर बंदूक व 8.28 लाख लूट की वारदात हुई थी। इस वारदात में कैशियर व कलेक्शन एजेंट ने भागकर जान बचाई थी। जबकि वैन का चालक घायल हुआ था। इस मामले में अभी तक पुलिस के हाथ कुछ नहीं आया था। मंगलवार को पुलिस ने गिरगांव से शातिर बदमाश व शॉर्प शूटर शैलू उर्फ उपेन्द्र सिंह गुर्जर बागवई भितरवार को गिरफ्तार किया था। मंगलवार रात को उसने आंतरी में होटल कारोबारी की हत्या करना कबूल किया था। 23 साल की उम्र में शैलू बेहद शातिर है और पैसों के लिए कुछ भी कर सकता है। बुधवार को उसे कोर्ट में पेश कर क्राइम ब्रांच ने रिमांड पर लिया। जब उससे पूछताछ की तो उसने बताया कि उसने एक महीने पहले शिवपुरी लिंक रोड पर कैश वैन लूट व हत्याकांड को अपने साथियों के साथ अंजाम देना कबूल किया है। उसने कुछ साथियों के नाम भी बताए हैं। अब पुलिस उसकी बताई हर बात की सच्चाई का पता लगा रही है।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close