ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि

अंतर विभागीय समन्वय समिति की बैठक में कलेक्टर अनुराग चौधरी ने शहर के चौराहों और तिराहों पर ट्रैफिक मैनेजमेंट बेहतर करने के निर्देश दिए हैं। यातायात व्यवस्था को बेहतर करने के लिए ई-रिक्शा मैनेजमेंट प्लान बनाने के साथ शिंदे की छावनी, गोला का मंदिर, पाटनकर चौराहा, बहोड़ापुर, चार शहर का नाका को स्पॉट के रूप में विकसित करने के लिए भी कहा। शहर स्वच्छ एवं सुंदर दिखे, इसके लिए स्मार्ट सिटी के माध्यम से तानसेन, लक्ष्मीबाई एवं योगा के चित्रों को दीवार पर प्रदर्शित किया जाए, जिस पर इतिहास का भी उल्लेख हो। वहीं शहर में अवैध ढंग से तलघरों में चल रही पैथोलॉजी लैब पर भी कार्रवाई के निर्देश नगर निगम को दिए।

कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में आयोजित बैठक में नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी शिवम वर्मा, अपर कलेक्टर अनूप कुमार सिंह, एडीएम टीएन सिंह, रिंकेश वैश्य सहित जिला अधिकारीगण उपस्थित थे। कलेक्टर अनुराग चौधरी ने कहा कि स्वच्छता अभियान के तहत प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में नगरीय निकायों एवं अन्य विभागों के सहयोग से स्वच्छता अभियान संचालित किया जाएगा। एक विधानसभा क्षेत्र के पूर्ण होने पर दूसरे क्षेत्र में संचालित होगा। उन्होंने कहा कि गंदगी करने पर मौके पर ही गंदगी फैलाने वालों पर अर्थदंड की कार्रवाई की जाएगी।

नगर निगम के सहयोग से तीन स्कूलों को स्मार्ट स्कूलों के रूप में विकसित किया जाएगा। इसके लिए शिक्षा विभाग के अधिकारियों को स्कूलों के चयन की कार्रवाई शुरू करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने कहा कि सड़कों पर घूमने वाले आवारा पशुओं को चारा खिलाने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई करें।

Posted By: Nai Dunia News Network