ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। ग्वालियर रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास परियोजना में तीन कंपनियों ने रुचि दिखाई है। टेंडर प्रक्रिया की प्री-बिड मीटिंग में इन कंपनियों ने हिस्सा लिया है। इन कंपनियों के प्रतिनिधि अगले सप्ताह स्टेशन का जायजा लेने के लिए आएंगे। इसके बाद आगामी एक जून से टेंडर प्रक्रिया में इच्छुक कंपनियां शामिल हो सकेंगी। यह टेंडर आगामी 15 जून को ही खोले जाएंगे, जिसमें तकनीकी और वित्तीय बोली के आधार पर पात्र कंपनी का चयन किया जाएगा। रेलवे ने 440.96 करोड़ रुपए की लागत से स्टेशन के पुनर्विकास का टेंडर जारी किया है। इसमें रेलवे स्टेशन को बिल्कुल एयरपोर्ट की तर्ज पर विकसित किया जाना है।

रेलवे ने गत 29 अप्रैल को यह टेंडर जारी किया था। टेंडर की शर्तों के मुताबिक इस प्रक्रिया में वही कंपनियां हिस्सा ले सकेंगी, जिनका पिछले तीन वित्तीय वर्ष का टर्नओवर कम से कम 500 करोड़ रुपए रहा हो। इसके लिए कंपनी को एक करोड़ रुपए की धरोहर राशि जमा करनी होगी। कंपनी को रेलवे स्टेशन, मेट्रो स्टेशन सहित हवाई अड्डे, बंदरगाह या बस टर्मिनल के निर्माण का अनुभव होना चाहिए। कंपनी को कम से कम पांच साल का अनुभव होना आवश्यक है। इसके अलावा कंपनी ने न्यूनतम पांच हजार व्यक्ति प्रतिदिन क्षमता वाले स्टेशनों, मेट्रो स्टेशन, हवाई अड्डे के निर्माण में भाग लिया हो। यह शर्त इसलिए रखी गई है, क्योंकि स्टेशन का पुनर्विकास एयरपोर्ट की तर्ज पर किया जाना है। पात्र कंपनी को स्टेशन का पुनर्विकास करने के लिए दो साल का समय दिया जाएगा। इन शर्तों को देखते हुए गत 20 मई को हुई प्री-बिड मीटिंग में तीन कंपनियों ने आनलाइन हिस्सा लिया और अगले सप्ताह स्टेशन का जायजा लेने के लिए आने का आश्वासन दिया है। संभावना जताई जा रही है कि इनके अलावा अन्य कंपनियां भी टेंडर प्रक्रिया में हिस्सा लेंगी।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close