ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। काेराेना के बढ़ते आंकड़ाें पर अंकुश लगाने के लिए प्रशासन ने चेकिंग अभियान शुरू किया है। जिसमें मास्क लगाए बिना सड़काें पर घूमने वालाें काे खुली जेल भेजा जा रहा है। इस कार्रवाई का खाैफ अब सड़काें पर दिखाई देने लगा है। अधिकांश लाेग बिना मास्क पहले घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्र के लाेग मास्क की जगह रूमाल या गमछा मुंह पर बांधकर ही निकल रहे हैं।

मंगलवार काे भी शहर में इस अभियान के तहत सुबह से कार्रवाई शुरू हाे गई। पुलिस ताे अपने स्तर पर चेकिंग कर ही रही है, साथ ही प्रशासन द्वारा गठित स्क्वॉड भी अब फील्ड में उतर चुके हैं। जिससे सड़काें पर अब बिना मास्क घूमने वालाें की संख्या भी कम हाे गई है।

सवारियां नहीं लगाए थी मास्कः खुली जेल के अभियान में सोमवार को एक ऑटो को प्रशासन के अधिकारियों ने रोक लिया। ऑटो वाला मास्क लगाए हुए था, लेकिन सवारियां मास्क नहीं पहने थीं। इस पर ऑटो चालक सहित सभी को रूप सिंह स्टेडियम स्थित खुली जेल में लाया गया। इसी तरह एक युवक अपना मास्क जेब में रखा हुआ था, इसलिए खुली जेल में तीन घंटा गुजारने पड़े।

11 लाेेगाें काे भेजा खुली जेलः खुली जेल में कुल 11 लाेगाें को भेजा गया और उनसे कोरोना नियंत्रण को लेकर निबंध भी लिखवाया गया। वहीं शहर भर में अलग अलग जगह 100 से ज्यादा चालान किए गए। गाैरतलब है कि कोरोना के लिए ग्वालियर जिले के लिए तैनात किए गए उर्जा विभाग के पीएस संजय दुबे के ग्वालियर प्रवास के दाैरान दिए गए निर्देशाें के बाद खुली जेल का अभियान शुरू किया गया है। खुली जेल में कलाकारों को भी काल्पनिक यमराज से मिलवाकर समझाइश दी जा रही है, जिससे वे आगे से कोरोना गाइड लाइन को लेकर जागरुक रहें। जिला कार्यक्रम अधिकारी राजीव सिंह ने बताया कि यह अभियान जारी रहेगा।

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस