- डेबिट कार्ड बदलकर ठगी करने वालों का नेटवर्क,

ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। डेबिट कार्ड बदलकर ग्वालियर, भोपाल,मुरैना, आगरा सहित कई शहरों में ठगी करने वाले धौलपुर के ठगों को चोरी के डेबिट और क्रेडिट कार्ड जेबकतरों से मिलते थे। धौलपुर के अलावा ट्रेनों में चोरी करने वाले अलग-अलग शहरों के जेबकतरों तक इनकी पहुंच है। हर डेबिट और क्रेडिट कार्ड के एवज में 500 रुपए जेबकट को देना होते थे। यह कार्ड यह ठग इसलिए खरीदते थे, जिससे इन्हें बदलकर ठगी की जा सके। यह नया खुलासा पूछताछ के दौरान ठग हनीफ खान ने किया है।

दरअसल गोला का मंदिर इलाके में रिटायर्ड फौजी के साथ पिछले माह 1.40 लाख रुपए की ठगी हुई थी। बाइक सवार दो युवक रिटायर्ड फौजी को एटीएम बूथ के बाहर मिले थे। रिटायर्ड फौजी यहां रुपए निकालने के लिए आया था। युवकों ने मदद के बहाने डेबिट कार्ड बदल लिया, गोपनीय पिन भी पूछ लिया। इसके बाद ठग भाग गए और 1.40 लाख रुपए की खरीदारी की। पेट्रोल पंप पर पेट्रोल डालते हुए दोनों नजर आए थे। दो दिन पहले दोनों ने हजीरा इलाके में डेबिट कार्ड बदलकर 88 हजार रुपए की ठगी की। इसके बाद यह लोग पेट्रोल पंप पर पहुंचे। गाेला का मंदिर इलाके में एक ठग हनीफ खान निवासी धौलपुर को पकड़ लिया गया, जबकि उसका साथी फिरोज भाग निकला। पकड़े गए ठग से पूछताछ की उसने कई लोगों को ठगना स्वीकार किया। पकड़े गए आरोपित के पास से 61 डेबिट और क्रेडिट कार्ड, 21 हजार रुपए मिले। सीएसपी मुरार ऋषिकेष मीणा का कहना है- दूसरे आरोपित की भी तलाश चल रही है, जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बुजुर्ग और महिलाएं रहती थी टारगेट पर: पूछताछ में ठग ने यह भी बताया कि इनके टारगेट पर सिर्फ बुजुर्ग और महिलाएं ही रहती थी। यह लोग आसानी से झांसे में आ जाते थे। इन्हें मदद का झांसा देकर एटीएम कार्ड बदल लेते थे।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close