जाेगेंद्र सेन, ग्वालियर नईदुनिया। दाल बाजार मेंं गेहूं कारोबारी संजय साहनी के बेटे हर्षिल के सुसाइड नोट काे लेकर पुलिस उलझी हुई है। युवक की आत्महत्या को हुंडी कांड से जोड़कर देखा जा रहा है। पुलिस सुसाइड नोट पर सीधे कुछ कहने से बच रही है। पुलिस का कहना है कि सुसाइड नोट अस्पष्ट है और कई शब्द लिखकर काटे गए हैं। इसलिए स्पष्ट समझ नहीं आ रहा है। घरवालों से बात करने के बाद स्थिति स्पष्ट हो पाएगी कि मृतक किन कारणों से परेशान था, और उसने आत्महत्या क्यों की? फिलहाल घरवालाें ने गमगीन होने के कारण कुछ नहीं बताया है।

गीता कालोनी दाल बाजार निवासी गिर्राज गुप्ता ने मंगलवार देर रात पुलिस को सूचना दी कि संजय पुत्र स्व. नत्थूराम साहनी का परिवार पड़ोस में रहता है। साहनी परिवार से उनके पारिवारिक संबंध हैं। रात में चीख-पुकार सुनकर उनके घर गए। यहां संजय के छोटे बेटे हर्षिल का शव एक कमरे में पलंग पर रखा था। स्वजन ने बताया हर्षिल ने सल्फास खाकर आत्महत्या कर ली है। पुलिस को शुरुआती जांच मेें मृतक के कमरे से सुसाइड नोट मिला है। स्वजन की गमगीन अवस्था के कारण फिलहाल बात नहीं हो पाई है। आत्महत्या का कारण पता लगाने जांच शुरू कर दी है। मृतक के घरवालाें ने बताया कि हर्षिल ने आत्महत्या करने से पहले दो बार पिता के पैर छुए थे और कमरे में जाने से पहले मां से बोलकर गया कि थकान हो रही है, इसलिए सोने जा रहा हूं। उसे उठाना नहीं। कोतवाली थाना पुलिस ने युवक के आत्महत्या करने का कारण पता लगाने के लिए जांच शुरू कर दी है।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local