ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। शासकीय धनराशि निकालकर उसका उपयाेग जनता के हितों में नहीं कर राशि का दुरुपयोग करने वाले पूर्व सरपंचों को जेल भेजा जाएगा। जिला पंचायत सीइओ आशीष तिवारी ने दो सरपंचों को जेल भेजने का वारंट जारी कर दिए हैं। इसके साथ ही करीब दो दर्जन ऐसे और भी पूर्व सरपंच हैं जिन्होंने शासकीय राशि में गड़बड़ी की है। इन सभी की फाइलों को खंगाला जा रहा है। पैसे जमा नहीं कराने पर इन सभी को जेल भेजा जाएगा।

ग्राम पंचायत लदवाया के पूर्व सरपंच राजेन्द्र सिंह द्वारा सर्व शिक्षा अभियान के तहत शासकीय प्राथमिक विद्यालय बझेरा में अतिरिक्त कक्ष और शासकीय प्राथमिक विद्यालय मानपुर में भी अतिरिक्त कक्ष निर्माण के लिए लगभग 2 लाख 19 हजार 560 रुपये की राशि निकाली थी। लेकिन इन दोनों विद्यालयों में निर्माण कार्य पूर्ण नहीं कराया गया। इसी प्रकार ग्राम पंचायत बड़ेरा फुटकर के पूर्व सरपंच घनश्याम शर्मा ने शासकीय प्राथमिक विद्यालय बड़ेरा फुटकर, प्राथमिक विद्यालय चकबहादुरपुर, सेटेलाइट शाला बड़ेरा कॉलोनी और शासकीय माध्यमिक विद्यालय बड़ेरा फुटकर में सर्व शिक्षा अभियान के तहत अतिरिक्त कक्ष व अन्य कार्यों के लिए 2 लाख 50 हजार रुपये से अधिक की धनराशि निकाली थी। लेकिन उन्होंने निर्माण कार्य पूर्ण नहीं कराया। इसके चलते सीइओ जिला पंचायत आशीष तिवारी ने इन सभी को नोटिस जारी कर पैसे वापस जमा करने के निर्देश दिए। लेकिन पैसा जमा नहीं करने पर इनके खिलाफ जेल वारंट जारी कर दिए हैं। इससे पूर्व भी सीइओ जिला पचांयत करीब एक दर्जन पूर्व सरपंचों को जेल भेज चुके हैं। वहीं करीब दो दर्जन पूर्व सरपंच ऐसे हैं जिन्हें जेल भेजा जाना है।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local