ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। मानव तस्करी और देह व्यापार के लिए बदनाम हो चुके बदनापुरा गांव में तीन दिन में दूसरी बार मंगलवार को ग्वालियर पुलिस ने फिर दबिश दी। यहां ग्वालियर के क्राइम ब्रांच सहित तीन थानों की टीम ने चार घंटे तक सर्चिंग की, जिसमें 32 घरों को खंगाला गया। यहां से दो शादीशुदा किशोरियां मिली। जिसमें से एक की उम्र 17 साल की है, वह पश्चिम बंगाल की रहने वाली है। दूसरी बदनापुरा की ही रहने वाली है, जो खुद को बिहार का बता रही थी। साथ ही इसके उम्र से जुड़े दो दस्तावेज मिले, दोनों में ही उम्र में 8 साल का अंतर है। यानि उसकी भी उम्र छिपाने का प्रयास किया गया है। दोनों की ही शादी जबरन कराने की कहानी सामने आई है। जिनके साथ इनकी शादी की गई, उनसे भी पूछताछ चल रही है।

बदनापुरा में मंगलवार दोपहर करीब 12 बजे क्राइम ब्रांच, पुरानी छावनी और महिला थाने की टीम पहुंची। महिला पुलिसकर्मी भी साथ में थी। टीम करीब चार दिन तक यहां आयुष्मान कार्ड बनाने वाली एजेंसी के कर्मचारी बनकर पड़ताल की थी, इसके चलते यहां घर पहले से चिन्हित थे। टीम ने रविवार तड़के दबिश दी थी, लेकिन सभी घरों की तलाशी नहीं हो सकी थी। मंगलवार को फिर यहां भारी फोर्स पहुंचा और घरों की तलाशी ली। यहां दो शादीशुदा किशोरियां मिली। संदेह होने पर इन्हें थाने ले जाया गया, जो खुद को इनका पति बता रहे थे, इन्हें भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया। क्राइम ब्रांच के डीएसपी ऋषिकेष मीणा ने बताया कि जब शादीशुदा किशोरियों से पूछताछ की गई तो एक पश्चिम बंगाल के कलकत्ता की रहने वाली थी। एक किशोरी जो कलकत्ता की रहने वाली है, वह करीब तीन साल पहले यहां आई थी। यहां उसकी शादी बिट्टू धनावत से कर दी गई। उस समय उसकी उम्र 14 वर्ष थी, अब वह 17 वर्ष की है। उसके दस्तावेज के अनुसार वह अभी भी नाबालिग है। उधर दूसरी किशोरी से जब बात की तो वह बोली वह बिहार की रहने वाली है। फिर पड़ताल में सामने आया वह बदनापुरा की ही रहने वाली है। उसकी उम्र के संबंध में दो मिले हैं। दोनों में उम्र का अंतर आठ साल का है। लेकिन उसने यह बताया कि उसकी शादी भी नाबालिग थी तब राहुल धनावत से की गई। पुलिस ने और भी घरों में रह रही किशोरियों से बात की, इनके उम्र से जुड़े दस्तावेज खंगाले। कुछ दस्तावेज जब्त भी किए हैं।

कलकत्ता की किशोरी बोली, मौसी यहां करा गई थी जबरन शादी: कलकत्ता की रहने वाली किशोरी से महिला पुलिस अधिकारी ने पूछताछ की तो उसने बताया कि उसके माता-पिता का निधन हो चुका है। दादी के साथ रहती थी, उनकी भी मौत हो गई। उसकी मौसी उसे यहां लाई थी और यहां उसकी शादी करवा दी।

पुलिस टीम पहुंचते ही मचा हंगामा: पुलिस टीम ने जैसे ही यहां दबिश दी तो हंगामा मच गया। कुछ लोगों ने यहां पुलिस का विरोध करने की कोशिश की, लेकिन पुलिसकर्मियों की अधिक संख्या को देखते हुए यह लोग शांत हो गए। घरों की तलाशी के दौरान विरोध करने की कोशिश की।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close