बलबीर सिंह, ग्वालियर नईदुनिया। राजस्थान में बने चक्रवातीय घेरे से शनिवार को शहर का मौसम बिगड़ गया। आधी रात से बारिश की झड़ी लगी है। रात से सुबह 8.30 बजे तक 8.4 मिमी बारिश हाे चुकी है। वहीं न्यूनतम तापमान 9.5 डिसे रिकार्ड हुुआ है, जाे सामान्य से 2.5 डिसे अधिक है। बारिश के कारण दाेपहर में भी लाेगाें काे ठंडक का अहसास हुआ। दाेपहर में धूप खिली, लेकिन ठंडक के कारण बेअसर ही साबित हुई। बादल छंटने के बाद कोहरे के साथ कड़ाके की ठंड की शुरुआत होगी। आठवें दिन भी ठंड रिकार्ड बनाने वाली है। लगातार आठ दिन से पड़ रही ठंड के कारण लोग बेहाल हैं। सूरज के निकलने का इंतजार है, ताकि राहत मिल सके।

शहर पिछले सात दिन से कड़ाके की ठंड का सामना कर रहा है। कड़ाके की ठंड रात की जगह दिन में पड़ रही है। इस कारण ठंड असहनीय हो गई है। घर के बाहर ही नहीं अंदर भी कंपकपी का अहसास हाे रहा है, लाेग दिन में भी अलाव तापते नजर आ रहे हैं। बीते राेज हुई बूंदाबांदी ने कोहरा और घना कर दिया। इस कारण कोल्ड डे रिकार्ड हुआ। प्रदेश में ग्वालियर व भिंड का दिन सबसे ज्यादा ठंडा रहा है। शुक्रवार-शनिवार की रात घना कोहरा छाया रहा, इससे ठंड बढ़ गई। लाेगाें काे हाड़ कंपाने वाली ठंड का सामना करना पड़ेगा।

छोटे आकार के ओले गिर सकते हैंः जम्मू कश्मीर में पश्चिमी विक्षोभ पहुंच चुका है। इस कारण राजस्थान में चक्रवातीय घेरा मजबूत हो रहा है। इस असर से आज और कल भी बारिश की संभावना बनी हुई है। बारिश का सिलसिला शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात से जारी है और 23 जनवरी की सुबह तक बारिश के आसार हैं। उसके बाद बादल चले जाएंगे। घना कोहरा छाना शुरू होगा। छोटे आकार के ओले भी गिर सकते हैं। 24 जनवरी से फिर से कड़ाके की ठंड की शुरुआत होगी। ठंड से राहत की उम्मीद नहीं दिख रही है।

वर्जन-

ग्वालियर-चंबल संभाग में बारिश की संभावना 23 जनवरी की सुबह तक है। इसके बाद बादल छंट जाएंगे। कोहरे के साथ ठंड की शुरुआत होगी। ठंड से राहत आसार कम दिख रहे हैं।

वेदप्रकाश सिंह, रडार प्रभारी मौसम केंद्र भोपाल

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local