ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। सेना भर्ती रैली में अब सिर्फ 14 दिन ही बचे हैं। 7 से 20 अक्टूबर तक सागर में भर्ती रैली होगी। इसके चलते सेना के अधिकारी दिन-रात तैयारियों में लगे हैं। करीब दो साल बाद सेना भर्ती आयोजित होने जा रही है, इससे पहले जब सेना भर्ती हुई तब ग्वालियर, भिंड और मुरैना के अभ्यर्थियों ने ट्रेनों से लेकर भर्ती स्थल के आसपास उत्पात मचाया था। इसके चलते इस बार सेना के अधिकारियों ने नया प्रयोग किया है। पहले ग्वालियर, भिंड और मुरैना के अभ्यर्थियों को साथ बुलाया जाता था, लेकिन इस बार तीनों ही जिलों के अभ्यर्थियों को अलग-अलग दिन बुलाया है। इन्हें दूसरे जिलों के अभ्यर्थियों के साथ परीक्षा दिलाई जाएगी। साथ ही सुरक्षा के लिए भर्ती स्थल पर कड़ी सुरक्षा से लेकर ट्रेन व बसों में भी सुरक्षा के इंतजामों के लिए इन जिलों के पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों से संपर्क किया है।

इस बार जो शेड्यूल जारी हुआ है, उसके मुताबिक ग्वालियर के सैनिक जनरल ड्यूटी के अभ्यर्थियों को एक दिन, भिंड के अभ्यर्थियों को दो दिन और मुरैना के अभ्यर्थियों को चार दिन अलग-अलग जिलों के अभ्यर्थियों के साथ फिजिकल टेस्ट देना होगा। इसके पीछे वजह है- भर्ती स्थल से लेकर ट्रेन व बसों में उपद्रव न हो, क्योंकि जब यह लोग अधिक संख्या में एकसाथ नहीं होंगे तो हंगामा होने की आशंका कम रहेगी।

जानिए...किस जिले के साथ होगा यहां के अभ्यर्थियों का फिजिकल टेस्ट:

ग्वालियर: 8 अक्टूबर को ग्वालियर के अभ्यर्थी निवाड़ी जिले के अभ्यर्थियों के साथ दौड़ेंगे।

भिंड: भिंड के युवकों का फिजिकल टेस्ट 9 और 10 अक्टूबर को होगा। 9 अक्टूबर को पन्ना के अभ्यर्थी और 10 अक्टूबर को दतिया के अभ्यर्थियों का भी फिजिकल टेस्ट इनके साथ होगा।

मुरैना: मुरैना के अभ्यर्थी 12, 13, 14 और 17 अक्टूबर को फिजिकल टेस्ट देंगे। इसमें इनके साथ दमोह, छतरपुर, टीकमगढ़ के अभ्यर्थियों का भी टेस्ट होगा।

19 और 20 को साथ में देंगे टेस्ट: 19 और 20 अक्टूबर को सैनिक टेक्निकल व सैनिक क्लर्क का फिजिकल टेस्ट है। इन दाेनों दिन 14 जिलों के अभ्यर्थी साथ में टेस्ट देंगे, क्योंकि इनकी संख्या कम रहती है।

- एनर्जी ड्रिंक या ड्रग लेकर गए तो खैर नहीं: सेना की ओर से एडवायजरी जारी की गई है, जिसमें अभ्यर्थियों को विशेष निर्देश दिए गए हैं।

- कोई भी दवा, एनर्जी ड्रिंक, ड्रग अगर लेकर पहुंचे तो कार्रवाई होगी। गेट पर ही जांच होगी।

- अगर भर्ती स्थल के आसपास किसी भी तरह का उपद्रव किया तो ड्रोन से निगरानी की जा रही है, अगर ऐसा किया तो सीधे एफआइआर कराई जाएगी।

- भर्ती स्थल पर ही लौटने वाले अभ्यर्थियों के लिए बसें लगवाई गई हैं, शुल्क देकर इनसे बस स्टैंड व रेलवे स्टेशन तक पहुंच सकेंगे।

- फर्जी दस्तावेज के साथ पकड़े जाने पर एफआइआर कराई जाएगी।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close