Republic Day 2023: ग्वालियर नईदुनिया प्रतिनिधि। बसंत पंचमी की पावन बेला में गणतंत्र दिवस पर यहां कंपू स्थित एसएएफ मैदान पर आयोजित मुख्य समारोह में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने राष्ट्रध्वज फहराया। गणतंत्र दिवस के पावन अवसर पर ओहदपुर की सुरम्य पहाड़ी पर स्थित कलेक्टर कार्यालय प्रांगण में जिलाधीश कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने किया ध्वजारोहण। इसके बाद सामूहिक रूप से राष्ट्रगान का गायन हुआ। इस अवसर पर कलेक्टर श्री सिंह ने शासकीय सेवकों से कहा कि कलेक्ट्रेट जिले की सर्वोच्च प्रशासनिक संस्था होती है, इसलिए इस ध्येय के साथ काम करें कि कोई भी व्यक्ति यहां से निराश न लौटे। उन्होंने सकारात्मक सोच के साथ दायित्वों का निर्वहन करने का आह्वान भी किया। बसंत पंचमी एवं गौरवशाली गणतंत्र दिवस की सुखद बेला में आयोजित हुए ध्वजारोहण कार्यक्रम में अपर कलेक्टर एच बी शर्मा, एसडीएम विनोद सिंह, अनिल बनबारिया, के के सिंह गौर, अश्वनी रावत व डिप्टी कलेक्टर यूनिश कुर्रेशी सहित कलेक्ट्रेट के अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी शामिल हुए।

इस अवसर पर प्रदेश की जनता के नाम मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन भी मुख्य अतिथि ने किया। समारोह में आकर्षक विभागीय झांकियां निकालीगई। साथ ही स्कूली बच्चों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुतकिए गए। डाग शो और यातायात पर केन्द्रित नाट्य की प्रस्तुति भी गणतंत्र दिवस समारोह का मुख्य आकर्षण रहेा

ग्रामीण पर्यटक उत्सव में प्रतिभागियों ने जानी गौ संस्कृति

राष्ट्रीय पर्यटन दिवस के उपलक्ष्य में ग्रामीण पर्यटक उत्सव का आयोजन आदर्श गौशाला लाल टिपारा में किया गया। कार्यक्रम गौपूजा से शुरू हुआ। इसके बाद गौशाला सैर के माध्यम से सभी प्रतिभागियों ने गौ संस्कृति को समझा, जिसमें जैविक खेती, केंचुआ खाद, गौकाष्ट के बारे में जाना। कार्यक्रम के लिए परिसर को ग्रामीण थीम पर ग्रामीण खेल, शिवलिंग, वर्ली आर्ट, गन्ने, पराली से सजाया गया था। कार्यक्रम में अतिथि के रूप में पूर्व राज्यपालन कप्तान सिंह सोलंकी, जीवाजी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. अविनाश तिवारी, दिव्य ज्योति जागृति संस्थान जालंधर से संत चिन्मयानंद, मिनिस्ट्री आफ टूरिज्म से असिस्टेंट टूरिज्म मैनेजर कार्तिका भारती कृष्णनन एवं सोलो ट्रैवलर नम्रता नागर आदि शामिल हुए। इस दौरान पूर्व राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने कहा कि यह गौशाला वाकई एक आदर्श गौशाला है। जीवाजी विश्वविद्यालय के कुलपति अविनाश तिवारी ने कहा ग्रामीण परिवेश अलौकिक है, जिसका यहां रूपांतरण किया गया है। गुरुद्वारा प्रबंधन से जग सिंह ने कहा अगर वृक्षारोपण किया जाए, तो ग्वालियर का तापमान तीन से चार डिग्री तक गिराया जा सकता है। एक पीपल का पेड़ 200 मनुष्य के लिए पर्याप्त आक्सीजन प्रदान करता है। कार्यक्रम का आयोजन पर्यटन विकास वेलफेयर सोसाइटी एवं कृष्णा एंड समिति द्वारा किया गया।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close