Road safety campaign: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर में अक्सर देखा है, आटो चालक जहां सवारी देखते हैं, वहीं ब्रेक मार देते हैं। कई बार तो सड़क के बिलकुल बीच में आटो रोक देते हैं, इससे पीछे से आ रहा वाहन अनियंत्रित होता है, यह हादसे की वजह है। आप सड़क किनारे वाहन रोककर सवारी बैठाएं। कभी गलत दिशा में आटो न चलाएं, एकांकी मार्ग है तो इस पर गलत दिशा में कई बार आटो चालक चले जाते हैं। इससे जाम भी लगता है और हादसे भी होते हैं।

यह बात रविवार दोपहर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म-1 के बाहर आटो स्टैंड पर डीएसपी ट्रैफिक नरेश अन्नोटिया ने उपस्थित आटो चालकों से कही। दरअसल नईदुनिया द्वारा यातायात नियमों के प्रति आम लोगों को जागरुक करने के उद्देश्य से चलाये जा रहे अभियान के तहत रविवार को आटो चालकों से ट्रैफिक पुलिस के अधिकारियों ने सीधा संवाद किया। ट्रैफिक पुलिस के अधिकारियों ने यातायात नियमों के बारे में आटो चालकों को जानकारी दी। इस दौरान आटो चालकों ने भी कुछ समस्याएं बताई, जिनके निराकरण का आश्वासन दिया गया। कार्यक्रम में डीएसपी नरेश अन्नोटिया, यातायात थाना प्रभारी बैजनाथ प्रजापति, आरपीएफ के उपनिरीक्षक शैलेंद्र सिंह ठाकुर सहित करीब आधा सैंकड़ा आटो चालक उपस्थित थे।

आप सबसे ज्यादा जान बचा सकते हैं, नाम-पता गोपनीय रहेगा, 5 हजार रुपए का इनामी भी मिलेगा: इस दौरान यातायात थाना प्रभारी बैजनाथ प्रजापति ने केंद्र सरकार की उस योजना के बारे में जानकारी दी, जिसके तहत सड़क हादसे में घायलों को अस्पताल पहुंचाने पर 5 हजार रुपए का इनाम दिया जाता है। उन्होंने कहा- आटो चालक दिनभर बाजार में रहते हैं, ऐसे में अगर हादसा होता है तो सबसे ज्यादा जानें आटो चालक ही बचा सकते हैं। लेकिन उन्हें जानकारी नहीं है, इसलिए वह बचते हैं। उन्हें लगता है कि अगर वह अस्पताल ले जाएंगे तो उनसे सवाल-जवाब होंगे। ऐसा नहीं है, आप अपना नाम-पता भी गोपनीय रख सकते हैं। आप घायल को अस्पताल पहुंचाएं, इसके बाद सीधे मुझसे आकर सिटी सेंटर स्थित ट्रैफिक थाने पर मिले। घायल की मदद के लिए मैं आपका नाम, पता, मोबाइल नंबर वरिष्ठ अधिकारियों तक भेजूंगा, पूरी प्रक्रिया हमारे द्वारा की जाएगी और प्रोत्साहन स्वरूप 5 हजार रुपए मिलेंगे। इतना ही नहीं गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर प्रशस्ति पत्र भी दिया जाएगा।

- डीएसपी अन्नोटिया ने बताया कि आटो चालक अक्सर बाई तरफ से चार पहिया व भारी वाहनों को ओवरटेक करते हैं, यह गलत है, हमेशा दाईं ओर से ओवरटेक करें।

- तेज रफ्तार में आटो न चलाएं, तेज रफ्तार हमेशा हादसों की वजह बनती है।

- शराब पीकर या किसी अन्य तरह का नशा कर आटो न चलाएं, इस पर सबसे ज्यादा जुर्माना है। अगर आप ऐसा करेंगे तो आपकी आटो भी बंद हो जाएगी, ऐसे में आपके परिवार पर भी असर पड़ेगा।

- डीएसपी अन्नोटिया ने कहा- हम आपको चालान के डर से यातायात नियम पालन कराना नहीं चाहते, हम लगातार ऐसे अभियान चलाएंगे जिससे आप स्वेच्छा से यातायात नियमों का पालन करें।

- अक्सर आटो चालक ट्रैफिक सिग्नल पर रेड लाइट जंप करते हैं, आप आइटीएमएस की निगरानी में है, इससे हादसे की आशंका तो है ही आप पर जुर्माना लगेगा आपके घर ई-चालान पहुंचेगा। अगर लगातार नियम तोड़ा तो ड्राइविंग लाइसेंस तक निरस्त हो सकता है।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close