ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। कार की नंबर प्लेट बदलकर सैलून संचालक से लूटने वाले दो लुटेरों से पूछताछ जारी है। जबकि तीसरा आरोपित अभी फरार है। उसकी तलाश में दो टीम लगी हैं, उसकी लोकेशन शुक्रवार रात को मुरैना मिली, जहां एक टीम भेजी गई है। आज दोनों लुटेरों को कोर्ट में पेश किया जाएगा। इन युवकों को गुंडा बनने का शौक था, इसलिए कई लोगों से राह चलते लोगों से मारपीट करते थे। पहली बार लूट की और अब सलाखों के पीछे पहुंच गए। पुलिस अफसरों का कहना है- तीसरा आरोपित भी जल्द ही पकड़ा जाएगा।

दरअसल स्वतंत्रता दिवस पर मुरार निवासी विनय प्रताप श्रीवास्तव को अगवा कर कार सवार तीन बदमाश ले गए थे। इनसे 40 हजार रुपए और मोबाइल लूटा था। मुरार पुलिस की टीम ने बीते रोज दो लुटेरों अंकित गुर्जर और बेटू भदौरिया को पकड़ लिया। जबकि तीसरा आरोपी अंकित शर्मा अभी फरार है। उसकी तलाश चल रही है। वह रिटायर्ड फौजी का बेटा है। इनके नशे और गुंडा बनने के शौक ने युवकों ने लुटेरा बना दिया। जबकि तीनों अभी पढ़ाई कर रहे हैं।

ऐसे पकड़े गए:

इनके पास एक सिम थी, जो एक साल से बंद थी। जो मोबाइल लूटा था, उसमें यही सिम डालकर परिचित को काल किया। यहां से पुलिस को सुराग मिला। पुलिस ने एक आरोपी का नाम पता लगने पर इंस्टाग्राम आइडी निकाली, जिसमें तीनों लुटेरे रायफल के साथ नजर आए। बस यहीं से सुराग लगा और दो को पकड़ लिया। रिश्तेदार का हथियार लाइसेंस होगा निरस्त: सीएसपी ऋषिकेष मीणा ने बताया कि यह लोग इंस्टाग्राम पर जो फोटो अपलोड करते थे, उसमें से कुछ फोटो हथियार के साथ भी हैं। जब पूछताछ की तो बताया कि एक रिश्तेदार की रायफल है। उस रिश्तेदार का नाम, पता निकाल लिया है। अब उसका हथियार लाइसेंस निरस्त करने के लिए अनुशंसा की जा रही है।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close