Shravan Month 2020 : ग्वालियर। देवाधिदेव महादेव की आराधना का पावन मास सावन का आगमन 6 जुलाई से होगा। इस बार सावन मास का प्रारंभ और समापन दोनों ही सोमवार को होगा। वैसे तो सभी दिन भगवान के हैं, लेकिन बाबा अचलनाथ को सोमवार अति प्रिय है। इसलिए भक्त सोमवार को बाबा की आराधना और दर्शन का सोमवार को अधिक महत्व मानते हैं। इस बार सावन मास में ही 36 शुभ योग भी पड़ रहे हैं, जिससे सावन मास की शुभता और अधिक बढ़ जाएगी।

ज्योतिषयों के अनुसार इस बार सावन मास की शुरूआत उत्तराषाढ़ा नक्षत्र एवं वैधृति योग में होगी। इसके साथ ही चंद्रमा मकर राशि में विचरण करेंगे। इस बार सावन में ग्रह योग और नक्षत्रों के आधार पर झमाझम बारिश के भी योग बन रहे हैं। इस बार सावन मास 6 जुलाई से प्रारंभ होकर 3 अगस्त तक रहेगा। सावन मास के अंतिम दिन रक्षाबंधन का पर्व भी मनाया जाएगा।

इसके साथ ही श्रावण मास में 10 जुलाई को मोनी पंचमी, 14 जुलाई को मंगला गौरी व्रत, 16 जुलाई को एकादशी, 18 जुलाई को प्रदोष, 20 जुलाई को हरियाली अमावस्या, सोमवती अमावस्या, 23 जुलाई को हरियाली तीज के साथ ही 25 जुलाई को नागपंचमी और 3 अगस्त को रक्षाबंधन मनाया जाएगा।

यह रहेंगे शुभ योग

सावन मास में इस बार 11 सर्वार्थ सिद्धि, 10 सिद्धि योग, 12 अमृत योग और तीन अमृत सिद्धि योग रहेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना