Snowy wind in Gwalior: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर में जम्मू-कश्मीर से आ रही बर्फीली हवा ने शहर में ठंड बढ़ा दी है। जहां दिन के समय चलने वाली हवा से शरीर में सिहरन हो रही है, जो रात होते-होते कंपकंपाने में परिवर्तित हो जाती है। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि तापमान का गिरना बरकरार रहेगा और आज भी पारे में गिरावट दर्ज की जाएगी। न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियम से कम ही दर्ज किया जाएगा।

जम्मू कश्मीर से आ रही बर्फीली हवा ने शहर में ठंड बढ़ा दी है। शनिवार को न्यूनतम तापमान 9.2 डिग्री सेल्सियस पर आ गया, जो सामान्य से 3.2 डिग्री सेल्सियस कम रहा। इससे रात में ठंड ने लोगों को कंपा दिया। ठंड बढ़ने से लोगों को गर्म कपड़े निकालने पड़े हैं। ठंड की चुभन भी बढ़ गई है। दिन में भी ठंड का अहसास होने लगा है। रात में कंपाने वाली ठंड शुरू हो गई है। मौसम के अनुसार रात के तापमान में एक से डेढ़ डिग्री सेल्सियस गिरावट के आसार हैं। रात में शीत लहर की स्थित बनने लगी है। न्यूनतम तापमान सामान्य से साढ़े चार डिग्री सेल्सियस नीचे आने पर शीतलहर मान ली जाती है। जम्मू कश्मीर में सक्रिय हुए पश्चिमी विक्षोभों से बर्फबारी हो चुकी है। पश्चिमी विक्षोभों के थमने से हवा का रुख उत्तर दिशा से हो गया है। यह हवा अपने साथ कश्मीर की बर्फीली ठंडक लेकर आ रही है। साथ ही हवा में नमी की मात्रा भी घट गई है। इस वजह से न्यूनतम तापमान में गिरावट जारी है। तापमान दस डिग्री से नीचे आने पर ठंड कंपाने लगी है। कंपाने वाली ठंड की शुरूआत हो गई। मौसम विज्ञानियों के अनुसार कश्मीर से उत्तरी हवा का आना जारी रहेगा, जिससे तापमान में गिरावट जारी रहेगी। 21 नवंबर के बाद ठंड और बढ़ेगी। क्योंकि हवा उत्तरी हवा की गति बढ़ेगी। विंध्याचल पर्वत श्रेणी के चलते उत्तरी हवा ठहरेगी, जिससे ठंड का अहसास बढ़ेगा। नवंबर के अंत तक शीतलहर भी चल सकती है।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close