ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। आठ साल बाद हो रहे निकाय चुनाव में महापौर का पद पाने के लिए प्रत्याशियों के बीच जबर्दस्त होड़ है। हाथ जोड़ कर, योजनाएं गिनाकर तो कमियां बताने में भी प्रत्याशी पीछे नहीं है। निश्शुल्क व सस्ती सुविधा के दावे भी दनादन चल रहे हैं। भाजपा की महापौर प्रत्याशी केंद्र व प्रदेश सरकार की योजनाओं के भरोसे हैं। कांग्रेस प्रत्याशी शहर की कमियां गिनाने में लगीं हैं। वहीं आप प्रत्याशी दिल्ली सरकार की तर्ज पर सुविधाएं देने के वादे कर रहीं हैं।

जेसी मिल के मुद्दे पर भाजपा के घेर रहे कांग्रेस व आप

विधानसभा उपचुनाव के दौरान जेसी मिल मजदूरों को जमीन के पट्टे देने का वादा भाजपा नेताओं द्वारा किया गया था, लेकिन अब तक हितग्राहियों को पट्टे नहीं दिए गए हैं। इस मुद्दे पर कांग्रेस और आप के नेता व उम्मीदवार भाजपा को कटघरे में खड़ा कर वादाखिलाफी बता रहे हैं, जबकि भाजपा नेता इस मुद्दे पर मौन साधे हुए हैं।

भाजपा: महापौर प्रत्याशी सुमन शर्मा व पार्षद प्रत्याशी अपनी डबल इंजन की सरकार द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों एवं योजनाओं का गुणगान जनता के सामने कर रहे हैं।

सरकार के यह काम गिना रहीं

- प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वास्थ्य सुविधाएं, सीएम राइज विद्यालय शुरू कराने आदि उपलब्धियां बता रही हैं।

केंद्र सरकार की अमृत योजना पार्ट 1 और 2 सहित स्मार्ट सिटी कारपोरेशन के कार्यों का उल्लेख भी चुनाव प्रचार में किया जा रहा है।

- स्मार्ट सिटी की बची हुई योजनाओं को तेजी से आगे बढ़ाने के लिए भाजपा जनता का सहयोग मांग रही है।

कांग्रेस: पंजाधारी महापौर एवं पार्षद पद के प्रत्याशी शहर के मतदाताअों को अपने पक्ष में करने के लिए भाजपा प्रत्याशियों के बिल्कुल उलट प्रचार कर रहे हैं। साथ ही निगम की नाकामी भी बता रहे हैं।

बता रहे कमियां, कर रहे वादे

- शहर की खस्ताहाल सड़कें, अमृत योजना में किए गए वादों के पूरे नहीं होने सहित गंदगी बताकर सफाई व्यवस्था की पोल खोल रहे हैं।

नगर निगम के कर्मचारियों के नियमितीकरण, ठेका प्रथा खत्म कराने पूरा खत्म करने का वादा कर रहे हैं।

इसके अलावा गार्बेज टैक्स को पूरी तरह से खत्म करने का वादा भी किया जा रहा है।

आम आदमी पार्टी: महापौर प्रत्याशी रुचि राय गुप्ता व पार्षद पद के उम्मीदवार चुनाव प्रचार में जनता से समर्थन मांगते हुए कई सुविधाएं देने सहित शहर विकास के वादे कर रहे हैं।

दिल्ली की तर्ज पर सुविधाओं के वादे

- 20 हजार लीटर पानी प्रति घर को निश्शुल्क देने का प्रचार किया जा रहा है।़नि ़ाशहरवासियो को संपत्ति कर से पूरी तरह मुक्ति दिलाने का भी वादा कर रहे हैं।

महापौर और पार्षद पद के प्रत्याशी शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली आदि सभी न्यूनतम शुल्क पर उपलब्ध कराने का वादा भी कर रहे हैं।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close