ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मंगलवार को हजरत इमाम हुसैन आली मकाम का ता यौम-ए-शहदत मनाया गया। सुबह से ताजिए स्थानीय कर्बला (सागरताल) पर जुलूस के रूप में ले जाए गए। सुसेरा रोड पर ताजियों को ससम्मान दफनाया गया और सागरताल में विसर्जित किया गया। कर्बला में कमेटी के तत्वाधान में इमाम हुसैन अली मकाम कतो खिराजे अकीदत (श्रद्घांजलि) पेश की।

शब-ए- शहादत मोहर्रम पर ताजियों ने महाराज बाड़े पर तड़के तक गश्त किया। बाड़े पर ताजिये मातमी धुनों के साथ रात 10 बजे से पहुंचना शुरू हो गए। ताजियों की ऊंची इमारतें लोगों के आकर्षण का केंद्र थीं। बाड़े पर तबर्रूक वितरित करने के लिए स्टाल लगाए गए। मंगलवार को कर्बला पर ताजिये विसर्जित व दफनाएं जाएंगे। ताजियों के गश्त के दौरान जिला प्रशासन व पुलिस ने सुरक्षा के इंतजाम किए थे। रात 10 बजे के बाद बाड़े पर वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया।

सिंधिया राजघराना व शंकरपुर का ताजिया आकर्षण का केंद्र था: सोमवार की रात से इमाम बाड़ों से ताजिये उठना शुरू हुए। मातमी धुनों के साथ ताजिये महाराज बाड़े पर पहुंचे। यहां बाड़े पर गश्त करने के साथ कुछ समय के लिए विश्राम किया। गश्त के दौरान ताजियों के साथ अखाड़ेदारों ने प्रदर्शन किया। शोक में युवा ढोल-नगाड़े पीटते हुए चल रहे थे। राजपरिवार का ताजिया रात 12 बजे गोरखी स्थित इमाम बाड़े से मातमी धुन के साथ बाड़े पर आया। गश्त करने के बाद वापस इमामबाड़े में पहुंचा। शंकरपुर, आपागंज, पिछोरो की पहाड़िया व रामाजी के पुरा का आकर्षण का केंद्र रहा। तड़के 4 बजे तक महाराज बाड़े पर भारी भीड़ रही।

सिंक्रामक बीमारियां रोकने निगम ने कराई फागिंग

शहर में संक्रामक बीमारियों एवं मच्छरों की रोकथाम के लिए नगर निगम ने सोमवार को कई क्षेत्रों में फागिंग एवं कीटनाशक दवाओं का छिड़काव कराया। सोमवार को पत्तल वाली गली, मस्जिद वाली गली, इंदरगंज चैराहा, नेहरू नगर, समाधिया कालोनी, न्यू नरसिंह नगर, शिव विहार, चौड़े के हनुमान, हजीरा क्षेत्र की विभिन्न गलियां, मुरार बारादरी, थाटीपुर, दीनदयाल नगर फागिंग व दवा का छिड़काव किया गया।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close